Friday, August 6, 2021

 

 

 

सरकार बनाने से पहले NCP ने शिवसेना के सामने रखी ये बड़ी शर्त…

- Advertisement -
- Advertisement -

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदल रहे हैं। शिवसेना ने बीजेपी के बिना राज्य में सरकार बनाने का दावा किया है और कहा है कि मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा।

ऐसे में माना जा रहा है कि एनसीपी और शिवसेना भी सरकार बनाने के लिए साथ आ सकते हैं। हालांकि सरकार के गठन से पहले एनसीपी ने शिवसेना के सामने एक शर्त रख दी है। जिसके तहत यूनियन मिनिस्टर अरविंद सावंत को नरेंद्र मोदी की कैबिनेट से इस्तीफा देना होगा।

एनसीपी ने कहा, अगर शिवसेना सही में ऐसा समीकरण चाहती है तो उन्हें अपने केंद्रीय मंत्री को पद छोड़ देने के लिए कहना चाहिए। इससे अपनी सही मंशा का अंदाजा होगा। नहीं तो यह सब दिखावा होगा और अंत में बीजेपी-शिवसेना सरकार बना लेगी। यह कैसे संभव है कि शिवसेना केंद्र  में बीजेपी के साथ भी रहे और उम्मीद करे कि राज्य में हम उसे समर्थन दें।

इससे पहले एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि शिवसेना अपनी भूमिका स्पष्ट करे, हम भी अपनी भूमिका साफ कर देंगे। नवाब मलिक ने ये भी कहा कि शिवसेना अगर कहती है कि उनका मुख्यमंत्री बनेगा तो यह बिल्कुल मुमकिन है। उन्होंने कहा कि फिलहाल जनता ने हमें विपक्ष में बैठने के लिए चुना है और हम उसके लिए तैयार हैं।

बता दें, शिवसेना के 56 विधायक हैं, जबकि कांग्रेस के पास 44 और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के पास 54 विधायक हैं, वहीं, निर्दलीय विधायकों की संख्या एक दर्जन से ज्यादा है। अगर ये सभी पार्टियां एकसाथ आती हैं तो ये आंकड़ा 170 के करीब पहुंचता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles