vinay

देश की सर्वोच्च अदालत में अयोध्या विवाद की सुनवाई चल रही है बावजूद बीजेपी नेता विनय कटियार भड़काऊ बयानबाजी कर अपनी राजनीति को चमकाने में जुटे है.

राज्यसभा सदस्य विनय कटियार ने शनिवार को अयोध्या में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान हिन्दू समुदाय को उकसाते हुए कहा कि राम मंदिर के लिए एक और बलिदान की आवश्यकता है. कटियार ने कहा कि ‘भगवान राम चाहते हैं कि एक बलिदान और हो और हमें इसके लिए तैयार रहना चाहिए, तभी जाकर अयोध्या में मंदिर निर्माण हो सकेगा.’

विनय कटियार ने ये भी कहा कि अब तक करीब साढ़े तीन लाख लोगों ने राम मंदिर के लिए अपना बलिदान दिया है. उन्होंने कहा कि ऐसे ही एक और बलिदान के लिए हम सभी को तैयार होना होगा. हालांकि, उन्होंने कहा कि यह बलिदान कैसा होगा, अभी यह कहना कठिन है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

mahan

बीजेपी नेता विनय कटियार ने कहा कि 6 दिसंबर, 1992 को जब मुलायम सिंह ने गोलियां चलवायी थी, तब कई लोग मारे गए थे, ऐसी ही एक और क्रांति करने की जरुरत है और हिंदू समुदाय को शहादत के लिए तैयार रहना चाहिए.’

इसी बीच अयोध्या, हनुमानगढ़ी के महंत और अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत ज्ञानदास ने अयोध्या विवाद में बड़ा बयान देते हुए कहा कि उन्हें ऐसा राम मंदिर नहीं चाहिए जो खून की धारा से बना हो. बल्कि ऐसा मंदिर बने जो दूध की धार से बना हो.

विनय कटियार को निशाने पर लेते हुए महंत ज्ञानदास ने कहा कि तीन हिस्से में बांटने के लिए 2010 में अदालत का एक निर्णय आया था जिस पर हम लोगों ने पहल की जिससे यह लग रहा था कि राम मंदिर बन जाएगा जिसमें सब कुछ हो गया था लेकिन अशोक सिंघल, विनय कटियार और राम विलास वेदांती इसमें बाधक बन गए. अब जो कुछ भी होगा न्यायालय से होगा.