तेलुगू देशम पार्टी ने केन्द्र की नरेंद्र मोदी सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया है. ऐसे में अब दक्षिण भारत में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है.

एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने TDP के नेताओं से टेलिकॉन्फ्रेंसिंग के बाद NDA से समर्थन वापसी का फैसला किया है. बता दें कि इससे पहले इसी तरह शिवसेना भी बीजेपी की अगुवाई वाली केन्द्र की मोदी सरकार से समर्थन वापस ले चुकी है.

केन्द्र सरकार से समर्थन वापसी के बाद तेलुगू देशम पार्टी ने नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ आज (16 मार्च) अविश्वास प्रस्ताव लाने का फैसला किया है. बता दें कि आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा नहीं देने के चलते एन. चंद्रबाबू नायडू की अगुवाई वाली टीडीपी और अन्य स्थानीय पार्टियां केन्द्र सरकार से काफी नाराज हैं.

इस सबंध में दिल्ली में 8 मार्च को ही मोदी सरकार से टीडीपी के दो मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया था. टीडीपी नेता और केन्द्रीय मंत्री पी. अशोक गजपति राजू (उड्डयन मंत्री) और वाई. एस. चौधरी (विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री) ने अपने-अपने इस्तीफे प्रधानमंत्री को सौंप दिए थे.

इस बीच, टीडीपी सांसद थोटा नरसिम्‍हन का बयान सामने आया है. उन्‍होंने कहा है हमारी पार्टी आज संसद में अविश्‍वास प्रस्‍ताव पेश करेगी. हमने फैसला कर लिया है. हम एनडीए से बाहर हो गए हैं.

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन