hegde

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े का विवादों से कोई नया नाता नहीं है. हमेशा वे अपने विवादित बयानों के चलते सुर्ख़ियों में रहते है. रविवार को एक चुनावी सभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए वे जैन समुदाय की नाराजगी मोल ले बैठे.

दरअसल हेगड़े ने राहुल गांधी के मंदिरों में दर्शन को लेकर सवाल उठाया. उन्होंने कहा कि राहुल नौटंकी करते हैं और कांग्रेस ड्रामा कंपनी है. हेगड़े ने कहा, राहुल गांधी को चुनावों में ही पता चलता है कि हिंदू धर्म नाम का कोई धर्म भी है.

कर्नाटक के बेलगावी में रैली को संबोधित करते हुए मोदी सरकार में मंत्री हेगड़े ने आगे कहा, ‘राहुल गांधी को याद आया है हमारे देश में हिंदू धर्म भी है. इस वजह से उन्होंने मंदिरों और मठों के चक्कर लगाने शुरू कर दिए हैं. इस आदमी को यह तक भी नहीं पता कि तीर्थ (चरणामृत) कैसे लेते हैं. क्योंकि किसी ने उन्हें सलाह दी थी, इसलिए वह रुद्राक्ष की माला पहनकर मंदिर जाते हैं, टोपी पहनकर मस्जिद जाते हैं और क्रॉस पहनकर चर्च जाते हैं. राहुल गांधी नौटंकी के सिवा कुछ नहीं करना चाहते हैं और कुछ नहीं.’

हेगड़े के बयान के खिलाफ अब जैन समुदाय ने बड़े पैमाने पर प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है. समुदाय का कहना है कि उन्होंने अपमानजनक बयान दिया है. इस दौरान केंद्रीय मंत्री का पुतला भी जलाया गया. साथ ही तहसीलदार को ज्ञापन भी सौंपा.

तिगाडोली गांव के निवासी देवेंदर पाटिल ने बताया कि उन्होंने जैन समुदाय की आस्थाओं को ठेस पहुंचाई है. उन्होंने भगवान बाहुबली के खिलाफ भी बोला है. इसलिए हमने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर तुंरत कार्रवाई की मांग की है.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें