खाकी नेकर की तरह नाथूराम गोडसे आरएसएस की एक पहचान: आजम खान

8:47 pm Published by:-Hindi News

 भोपाल से बीजेपी की लोकसभा प्रत्याशी और मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के नाथूराम गोडसे को ”देशभक्त” बताने को लेकर यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां ने आरएसएस को निशाने पर लिया है।

उन्होने गुरुवार को कहा कि गोडसे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की पहचान हैं, ठीक उसी तरह जैसे खाकी निक्कर है। अब यह लोगों के हाथ में है कि वे यह तय करें कि राष्ट्र की पहचान गांधी से हो या गोडसे से, मानवता से हो या खाकी निक्कर से हो। सपा नेता ने आगे कहा कि भाजपा को साध्वी प्रज्ञा को पार्टी से निकाल देना चाहिए।

सपा नेता ने कहा, आरएसएस की विचारधारा का मैंने उस विचारधारा का जिक्र किया था। ठीक उसी तरह जिस तरह प्रज्ञा ठाकुर ने नाथूराम गोडसे के बारे में कहा है। हम और देश मे जो अमन चाहते हैं जो हत्याओं और हत्यारों को वाजिब नहीं ठहराना चाहते वो इस बात की उम्मीद करते हैं प्रज्ञा ठाकुर को भारतीय जनता पार्टी से बाहर निकालेगी और माफी मांगेगी राष्ट्र से कि उन्होंने एक ऐसी महिला को टिकट दिया जो बापू के हत्यारे नाथूराम गोडसे की समर्थक है, वो आरएसएस जिस पर बापू की हत्या के बाद बैन लगाया गया था। भाजपा बाहर निकाले। जनता यह तय करे देश किस रास्ते पर जा रहा है।

कमल हासन के नाथूराम गोडसे को पहला हिंदू आतंकी बताए जाने पर पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां ने कहा है कि उनका नाम कमल हसन नहीं है कमल हासन है और वह मुसलमान नहीं हैं। आजम ने कहा कि कमल हासन ने कहा है कि नाथूराम गोडसे बापू के हत्यारे हैं और पहले आतंकवादी हैं यह उनका विचार है। लेकिन प्रज्ञा ठाकुर ने कहा है नाथूराम गोडसे राष्ट्रभक्त थे हैं और रहेंगे।

पश्चिम बंगाल में भाजपा और टीएमसी के विवाद और चुनाव आयोग के आदेश पर आजम खां ने कहा कि कोई विवाद नहीं सब कुछ सामने आ गया है सारे वीडियो हैं किसने दरवाजे तोड़े, शीशे तोड़े किसने प्रतिमा तोड़ी है एक तरफा हमला था कुछ भी विवादित नहीं है। यह भी विवादित नहीं है इलेक्शन कमीशन ने जो निर्णय लिया वो निष्पक्ष नहीं था।

Loading...