ashfaque

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 8 नवंबर की आधी रात को लिए गए नोटबंदी के फैसले का समर्थन करते हुए जनता दल राष्ट्रवादी के राष्ट्रीय संयोजक अशफाक रहमान ने कहा कि नोटबंदी के इस फैसले से सबसे ज्यादा फायदा मुस्लिम समुदाय का हुआ हैं. वहीँ सबसे ज्यादा नुकसान संघ परिवार का हुआ हैं.

उन्होंने इस बारें में कहा कि देश में मुसलमानों की तादाद 25 प्रतिशत के करीब हैं लेकिन देश की अर्थव्यवस्था में उनकी हिस्सेदारी मात्र 3 फीसदी है. ऐसे में बहुत मुश्किल से ही कोई मुसलमान ऐसा होगा जिसके पास काला धन हो. ऐसे में देखा जाए तो नोटबंदी का सबसे बड़ा फायदा मुसलमानों का हुआ हैं. क्योंकि इस काला धन अर्थव्यवस्था के मेनस्ट्रीम में आते हुए मुसलमानों को बराबर में फायदा देगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीँ उन्होंने इस फैसले को संघ परिवार के लिए नुकसानदेह बताते हुए कहा कि इस फैसले से सबसे ज्यादा चिंतित संघ परिवार के लोग हैं. क्योंकि उनके पास ही सबसे ज्यादा काला धन हैं.

अशफाक रहमान ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत की आलोचना करते हुए कहा कि इसलिए उन्होंने अब तक इस फैसले का अभी तक स्वागत नहीं किया.

Loading...