Thursday, July 29, 2021

 

 

 

तीन तलाक के मुद्दे पर बीजेपी के रुख को देखते हुए मुस्लिम महिलाओ ने दिया उनका साथ ?

- Advertisement -
- Advertisement -

सहारनपुर | उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावो में बीजेपी की बम्पर जीत के बाद पार्टी के नेताओ ने दावा किया की इस जीत में मुस्लिम महिलाओ का भी बड़ा हाथ रहा है. केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक इंटरव्यू में कहा की तीन तलाक के मुद्दे पर बीजेपी के रुख को देखते हुए यूपी की मुस्लिम महिलाओं ने बीजेपी को समर्थन दिया है. हालाँकि जानकारों का कहना है बसपा के दलित वोट बैंक का बीजेपी की तरफ खिसकना भी बड़ी जीत का कारण रहा है.

मुस्लिम महिलाओं द्वारा बीजेपी को वोट करने के दावे पर सहारनपुर की आतिया साबरी ने मोहर लगाई है. सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक के मुद्दे पर याचिका दायर करने वाली आतिया ने मीडिया से बात करते हुए कहा की मैंने और मेरे पुरे परिवार ने विधानसभा चुनावो में बीजेपी को वोट दिया है. अब चूँकि प्रदेश में बीजेपी की सरकार बन चुकी है तो वो अपने तीन तलाक के वादे को भी पूरा करे.

मालूम हो की आतिया ने सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक के मुद्दे पर याचिका दायर की है. आतिया का कहना है की 2012 में उनकी शादी हुई थी. लेकिन दो बेटियों को जन्म देने की वजह से उनके ससुराल वाले उनके खिलाफ हो गए. वो मुझे घर से निकालना चाहते थे लेकिन वो ऐसा नही कर पाए. एक बार उन्होंने मुझे जहर देकर मारने की भी कोशिश की. 2016 में उनके पति ने एक कागज पर तीन बार तलाक लिखकर उसे तलाक दे दिया.

आतिया के अनुसार उनके पति द्वारा दिए गए तीन तलाक को दारुल उलूम देवबंद ने जायज ठहराया है. इसलिए इस मामले में उनका भी नाम शामिल है. यूपी में बीजेपी की जीत पर आतिया का कहना है की प्रदेश की उन सभी मुस्लिम महिलाओं ने बीजेपी को वोट दिया है जो तीन तलाक के खिलाफ है. सुप्रीम कोर्ट आतिया की याचिका पर 30 मार्च को सुनवाई करेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles