पीडीपी के प्रवक्‍ता और पूर्व मंत्री नईम अख्‍तर ने कहा कि, इसे राजनीतिक रूप से नहीं देखा जाना चाहिए। यह सामान्‍य प्रक्रिया है।

सरकार बनने की अटकलों के बीच मुफ्ती मोहम्‍मद सईद के परिवार ने मुख्‍यमंत्री बंगला खाली कर दिया है। इसके चलते भाजपा में परेशानी का माहौल है। बंगला खाली करने के बाद भाजपा नेताओं में सरकार बनने को लेकर संदेह है। वहीं पीडीपी के प्रवक्‍ता और पूर्व मंत्री नईम अख्‍तर ने कहा कि, इसे राजनीतिक रूप से नहीं देखा जाना चाहिए। यह सामान्‍य प्रक्रिया है। यह घर मुख्‍यमंत्री के लिए है। कोई व्‍यक्ति जो मुख्‍यमंत्री नहीं है वह वहां कैसे रह सकता है।

नियमानुसार मुख्‍यमंत्री का परिवार उनके न रहने पर एक महीने तक आधिकारिक आवास में रह सकता है। लेकिन मुफ्ती परिवार ने इस समय सी मा का इंतजार नहीं किया और पहले ही घर खाली कर दिया। नईम अख्‍तर ने बताया कि, मुफ्ती की बीवी बेगम गुलशन 18 जनवरी को सीएम आवास आई थी। इसके बाद वह सगे संबंधियों के साथ घर खाली कर चली गई।

इसी बीच भाजपा के साथ सरकार बनाने को लेकर पीडीपी जम्‍मू और श्रीनगर में दो उच्‍च स्‍तरीय बैठकें करेगी। रविवार को महबूबा मुफ्ती ने सभी पीडीपी विधायकों, जोनल और जिला अध्‍यक्षों को श्रीनगर में बुलाया है। गौरतलब है कि इसी महीने मुफ्ती मोहम्‍मद सईद का निधन हो गया था। जिसके बाद नए सीएम की अनुपस्थिति में वहां राज्‍यपाल शासन लगा दिया गया। साभार: जनसत्ता





कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें