उम्मीदवारों की घोषणा के बाद आरजेडी में घमासान, फातमी बोले – लालू के कई ‘राज’ जानता हूं

बिहार महागठबंधन में सीट बंटवारे और उम्मीदवारों के नाम की घोषणा के साथ ही राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) में जारी अंदरूनी कलह सतह पर आ गई है. आरजेडी के बड़े नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अली अशरफ फातमी ने पार्टी में टूट के संकेत दिए हैं.

फातमी ने मधुबनी से टिकट कटने की अटकलों पर कहा कि वे पिछले तीस सालों से हर अच्छे-बुरे दौर में लालू यादव के साथ रहे हैं. मैं उनके कई राज जानता हूं. मैंने विनम्रतापूर्व अपना संदेश लालू यादव को भेज दिया है. अगर मुझे टिकट नहीं मिल रहा है तो इसका मुझे कारण बताया जाना चाहिए. फातमी केंद्रीय मंत्री भी रह चुके हैं. इससे पहले चर्चा थी कि फातमी दरभंगा से चुनाव लड़ सकते हैं लेकिन अब वहां से आरजेडी के ही सीनियर नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी के चुनाव लड़ने की चर्चा है.

दरभंगा में अपने आवास पर राजद नेताओं के साथ आपात बैठक के बाद फातमी ने कहा कि वह 3 अप्रैल को दरभंगा और मधुबनी के समर्थकों के साथ एक जनसभा करेंगे और बड़ा फैसला लेंगे. उन्होंने कहा कि तेजस्वी ने उन्हें आश्वासन ही नहीं बल्कि एक दिन पहले टिकट देने की बात भी कही थी. पत्रकारों से बात करते हुए फातमी ने दो लोकसभा क्षेत्र से नामांकन भरने का संकेत दिया.

माना जा रहा है कि वह दरभंगा और मधुबनी से चुनाव लड़ सकते हैं. उन्होंने यह भी दावा किया कि जिन्हें टिकट मिला है और जिन्हें नहीं मिला है, पार्टी के वे सब नेता उनके संपर्क में हैं. उन्होंने दावा किया कि वे पार्टी छोड़ते हैं तो सिर्फ दरभंगा और मधुबनी ही नहीं, बिहार के सात लोकसभा क्षेत्रों पर इसका असर होगा. उन्होंने कहा कि पार्टी छोड़ने पर भी लालू यादव या तेजस्वी यादव से उनके संबंधों पर असर नहीं होगा.

इससे पहले उनके बेटे और मौजूदा आरजेडी विधायक फराज फातमी ने कहा था कि  ”हमें पूरी उम्मीद थी और है भी. निश्चित रूप से हमारे पिता को वहां से चुनाव लड़ना चाहिए. मैं भी वहां विधायक हूं. आने वाले कल में महागठबंधन 100 प्रतिशत वहां से चुनाव जीतेगा. जब ऐसी खबर फैली तो हमने अपनी बात को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के सामने रखा और उनको सारी बातों से अवगत कराया है. सारी बातें बताई हैं और उन्होंने अच्छे से सुना भी है. उन्होंने हमें आस्वाशन दिया है कि आप हमें एक दिन का समय दीजिए हम विचार कर लेते हैं. वो एक अच्छा डिसीजन हमारे पक्ष में लेंगे और कल हम दरभंगा जा रहे हैं. अपने समर्थकों के साथ बैठक भी करेंगे.”

विज्ञापन