मोदी के मंत्री ने कहा – 15 लाख रुपए देना चाहते है लेकिन RBI पैसे नहीं दे रहा

ramdas athawale 143398 730x419 m

नई दिल्ली: अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने बीते लोकसभा चुनाव के दौरान हर खाते में 15 लाख रुपए जमा कराने से जुड़े वादे को लेकर कहा है कि मोदी सरकार तो 15 लाख देना चाहती है लेकिन आरबीआई पैसा नहीं दे रहा है।

अठावले ने कहा, ”एक दम 15 लाख नहीं होंगे लेकिन धीरे धीरे मिलेंगे। इतनी बड़ी रकम सरकार के पास नहीं है। हम आरबीआई से मांग रहे हैं लेकिन वो दे नहीं रहे। इसमें तकनीकी समस्याएं हैं। यह एक साथ नहीं हो पाएगा, लेकिन धीरे-धीरे हो जाएगा।”

अठावले ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए कहा, ”नरेंद्र मोदी बहुत एक्टिव प्रधानमंत्री हैं। राफेल के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट ने क्लीन चिट दी है। इससे जुड़े सभी दस्तावेज जमा कर दिए गए हैं। विपक्षियों के पास कोई मुद्दा नहीं है, तीन चार महीने में सबकी हवा निकल जाएगी। नरेंद्र मोदी एक बार फिर प्रधानमंत्री बनेंगे।”

rbi

गौरतलब है कि पीएम मोदी ने 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान अपनी रैलियों में काला धन वापस लाने और 15 लाख रुपये खाते में आने की बात कहते थे। मोदी ने प्रचार के दौरान कहा था कि अगर हमारी सरकार बनी तो हम कालेधन पर ऐसी चोट करेंगे कि हर एक भारतीय के खाते में 15-15 लाख रुपए आएंगे। 2016 में एक जनहित याचिका में पूछा गया कि यह पैसा खाते में कब आएंगे।

हाल ही में विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की जीत पर आठवले ने कहा कि मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी ने 15 साल तक शासन किया है, इसलिए लोगों ने इसे बदल दिया है जबकि राजस्थान में हर 5 साल बाद सत्ता बदलती है। तीन राज्यों में कांग्रेस की जीत राहुल गांधी की जीत नहीं है और ना ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हार है। उन्होंने आगे कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में एनडीए की जीत होगी और मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बनेंगे।

विज्ञापन