Friday, September 17, 2021

 

 

 

मोदी के मंत्री ने कहा – सेक्युलरों की नहीं कोई पहचान, हम संविधान बदलने आए हैं

- Advertisement -
- Advertisement -

heg

केंद्रीय कौशल विकास राज्यमंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने विवादित बयान देते हुए कहा कि जो लेाग खुद को धर्मनिरपेक्ष और बुद्धिजीवी मानते हैं उनकी अपनी खुद की कोई पहचान नहीं होती.

कर्नाटक के कोप्पल ज़िले में ब्राह्मण युवा परिषद और महिलाओं को संबोधित करते हुए हेगड़े ने कहा, धर्मनिर्पेक्ष और प्रगतिशील होने का दावा वे लोग करते हैं जिन्हें अपने मां-बाप के खून का पता नहीं होता है.

उन्होंने कहा, लोगों को खुद की पहचान धर्मनिर्पेक्ष के बजाय धर्म और जाति के आधार पर करनी चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस सोच के साथ संविधान में बदलाव भी किया जा सकता है. इसीलिए हम लोग यहां हैं.

द हिंदू की ख़बर के अनुसार, हेगड़े ने कहा, ‘अगर कोई ख़ुद की पहचान अपने धर्म से करता है चाहे वो व्यक्ति मुसलमान, ईसाई, ब्राह्मण, लिंगायत या हिंदू हो तो मुझे बहुत खुशी होगी लेकिन यदि वे कहते हैं कि वे धर्मनिरपेक्ष हैं तो ये परेशानी पैदा करने वाली बात है.’

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने केंद्रीय मंत्री हेगड़े के बयान की आलोचना करते हुए कहा कि अनंत हेगड़े पंचायत पद के काबिल भी नहीं हैं. सिद्धारमैया ने कहां, ‘मैं उनके स्तर तक नहीं पहुंचना चाहता हूं. हम अपनी भाषा और संस्कृति जानते हैं. वह एक केंद्रीय मंत्री हैं, लेकिन ज़हर उगलते हैं.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles