पुलवामा में हमारे जवान हुए शहीद और मोदी भाषण दे रहे थे: हरीश रावत

नई दिल्ली – चुनावी रणभेरी में अब वाक्य युद्ध शुरु हो चुका है। नेताओ के द्वारा विपक्षियो पर हमले तेज होते जा रहे हैं। इसी क्रम में उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पीएम मोदी पर तीखा हमला बोला है। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी आज उत्तराखंड के रूद्रपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करेंगे। उनकी रैली से पहले उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एंव नैनीताल से लोकसभा का चुनाव लड़ रहे हरीश रावत ने मोदी सरकार के झूठे वादों को लेकर हमला बोला है।

हरीश रावत ने सोशल मीडिया पर टिप्पणी करते हुए कहा कि पता चला है आज नरेंद्र मोदी रुद्रपुर में आम सभा को संबोधित करेंगे, स्वाभाविक है अपनी पार्टी के प्रचार के लिए आ रहे हैं। हमारे लिए अच्छा ये है कि मोदी जी की उसी स्थल पर उपस्थिति जनता को 2017 के मोदीजी के एक झूठे वादे की याद दिला देगा, जब उन्होंने कहा था कि तराई और भाबर के भाइयों और बहनों डबल इंजन की सरकार बनाओ मैं किसानों का, लघु व्यापारियों का कर्ज माफ कर दूंगा। कर्ज तो माफ नहीं हुआ पहली बार बड़ी संख्या में किसानों ने तराई में आत्महत्या का रास्ता अपनाया।

उन्होंने कहा कि लोगों को ये भी याद आ जाएगा कि ये वही व्यक्ति हैं जब पुलवामा में 40 हमारे बहादुर सैनिक शहीद हुए, उसी दिन 5:15 पर जनसभा को संबोधित कर रहे थे और संबोधन में पुलवामा भी गायब था, शहीदों की श्रद्धांजलि भी गायब थी, आतंकवादियों को खत्म करने का वादा भी गायब था।

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भाजपा द्वारा लगाए गए विशेष ब्रांड की शराब बेचने के आरोपों का भी खंडन किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा मुझ पर आरोप लगा रही है कि मैंने उत्तराखंड में कुछ महीने एक विशेष ब्रांड की शराब बिकवाई। वो उस ब्रांड की शराब थी जिसमें 20% उत्तराखंड के फलों का रस सम्मिलित था।

उन्होने कहा, लोगों को उस शराब का टेस्ट पसंद नहीं आया मगर भाजपा के दोस्तों आपने तो राज्य में लोगों को जहरीली शराब पिलायी। 50 भाई हमारे काल कलवित हो गए। 50 दलित परिवारों पर कहर टूट पड़ा और आपको अपने पर पड़े खटमल नहीं दिखाई पड़ रहे हैं मुझ पर आप जुएं खोजने चले हो।

विज्ञापन