Friday, July 30, 2021

 

 

 

दिल्ली हार पर शिवसेना का तंज़ – चुनाव जीतने में भगवान राम भी BJP की मदद नहीं कर रहे

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई। शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने शनिवार को दिल्ली के चुनाव नतीजों को लेकर बीजेपी पर तंज़ कसते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह अपराजेय नहीं हैं।

सामना में संजय राउत ने कहा है कि बाप रे! पूरी दिल्ली देशद्रोही! दिल्ली विधानसभा चुनाव के परिणाम ने यह दिखा दिया है कि प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री शाह अजेय नहीं हैं। संजय राउत ने लिखा है कि, “दूसरी बात मतलब मतदाता बेईमान नहीं हैं। धर्म का बवंडर पैदा किया जाता है, उसमें वे बहते नहीं हैं। राम श्रद्धा की जीत हैं ही लेकिन कुछ विजय हनुमान भी दिलाते हैं। दिल्ली में ऐसा ही हुआ।”

उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान अपराजेय लग रही भाजपा दिल्ली में ताश के पत्तों की तरह ढह गई। बेहद व्यंग्यात्मक टिप्पणी में राउत ने कहा, कोई देश बिना धर्म के नहीं है, लेकिन धर्म का अर्थ देशभक्ति नहीं है, भगवान हनुमान का भक्त केजरीवाल दिल्ली में ‘राम राज्य’ ले आया जबकि भाजपा ने तो भगवान राम को लगभग चुनाव मैदान में उतार ही दिया था।

इस चुनाव से सीख लेने की बात करते हुए उन्होंने कहा, दिल्ली की तस्वीर कुछ यूं थी, हनुमान भक्त केजरीवाल और दिल्ली की जनता बन गई थी राम… राम मजबूती से हनुमान के साथ खड़े रहे। राउत ने सवाल किया, भाजपा नेताओं ने पहले कहा था कि जो भगवा पार्टी को वोट नहीं देगा वह देशद्रोही होगा, तो क्या पूरी दिल्ली पर यह मुहर लगने वाली है?

संसद के अधिवेशन के दौरान ही पीएम मोदी ने संसद में रामजन्म भूमि ट्रस्ट की घोषणा करके राम मंदिर का कार्य प्रारंभ हो रहा है, ऐसी सार्वजनिक घोषणा की,  लेकिन राम मंदिर की घोषणा का कोई भी ‘करंट’ दिल्ली विधानसभा में नहीं ला सकी।

राउत ने लिखा है कि शाहीन बाग में नागरिकता कानून के विरोध में मुसलमान धरने पर बैठे। भाजपा ने इसका इस्तेमाल हिंदू बनाम मुसलमान के तौर पर किया, लेकिन भाजपा की सबसे दयनीय हार हिंदू बहुल निर्वाचन क्षेत्रों में ही हुई।  केजरीवाल को हिंदू-मुसलमान, ईसाई, दलित, सिख सभी ने वोट दिए। देश के लोकप्रिय प्रधानमंत्री और मजबूत गृहमंत्री की उन्होंने नहीं सुनी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles