प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी से हुई लुटपाट की घटना के मामले में आरोपी की गिरफ्तारी के बाद भी राजनीति जारी है। आरोपियों के महज 24 घंटे के अंदर पकड़े जाने को लेकर केजरीवाल सरकार ने अपनी पीठ ठपठपाई है।

दरअसल, सीएम अरविंद केजरीवाल ने चोरों को पकड़ने का क्रेडिट दिल्ली सरकार द्वारा लगाए गए सीसीटीवी कैमरों को दिया। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार की ओर से लगाए गए सीसीटीवी कैमरों की मदद से ही दोनों स्नैचर 24 घंटे में पकड़े गए।

केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘ऐसी घटनाओं से लोग चिंतित हैं। लोगों की सुरक्षा बेहद महत्वपूर्ण है। देश की राजधानी ऐसी घटनाओं से अच्छा संदेश नहीं जाता। दोषी चाहे कोई भी हो उसको सख्त सजा मिलनी ही चाहिए।’’

वहीं इस मामले में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस तरह की वारदात के लिए घुसपैठियों को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा, ‘‘दिल्ली में इस तरह की घटनाओं के पीछे अवैध घुसपैठिए जिम्मेदार होते हैं। जब इन पर कार्रवाई की बात होती है तो अरविंद केजरीवाल उनके कवच बनकर खड़े हो जाते हैं। दिल्ली में भी एनआरसी लागू होना चाहिए।’’

बता दें कि दिल्ली के वीवीआइपी इलाके सिविल लाइन्स इलाके में उप राज्यपाल अनिल बैजल के आवास से चंद कदमों की दूरी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी दमयंती से दो लोग पर्स लूटकर फरार हो गए थे।

उत्तर जिला पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों की पहचान नोनू और बादल के तौर पर की है। दोनों से 66 हजार कैश, दो मोबाइल फोन और कुछ डॉक्यूमेंट बरामद किए हैं। वारदात में इस्तेमाल स्कूटी बरामद कर ली है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन