नई दिल्ली | संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी पर तंज कसा. उन्होंने कल उत्तर भारत में आये भूकंप के बहाने कहा की राहुल गाँधी , धमकी तो काफी पहले से दे रहे थे , आखिर भूकंप आ ही गया. इस दौरान मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा की आपको चुनाव की चिंता थी इसलिए कालेधन पर कोई कड़ा निर्णय नही लिया. मोदी ने मल्लिकार्जुन खड्गे पर भी निशाना साधा.

लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण का जवाब देते हुए मोदी ने कहा की हमने कालेधन और भ्रष्टाचार दूर करने के लिए कड़े फैसले लिए. बेनामी संपत्ति पर भी कड़ा कानून लाया जा रहा है. यह पास हो चूका है , आप ध्यान से पढ़ कर देख ले की कितना कठोर कानून है. हमने विदेशो से कालाधन वापिस लाने के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर एसआईटी गठित की. मैं सबसे अपील करता हूँ की मुख्यधारा में आकर देश के विकास में सहयोग करे.

कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए मोदी ने कहा की मैं पूछना चाहता हूँ की आपने कभी कालेधन और भ्रष्टाचार पर कोई कदम क्यों नही उठाया. आपने ऐसा इसलिए नही किया क्योकि आपको चुनाव की चिंता थी जबकि हमें देश की चिंता है. मैंने कड़े कदम उठाये है और अब मैं पीछे नही हटूंगा. चाहे कितना भी बड़ा दल हो आपको गरीबो का हक़ वापिस करना होगा.

नोट बंदी पर विपक्ष के हंगामे का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा की आपको टीवी पर बाईट देने की ज्यादा चिंता थी बजाये इस पर सदन में चर्चा करने की. आपको लगता था की अगर सदन में बहस की तो मोदी को फायदा हो जायेगा. मल्लिकार्जुन खड्गे के कुत्ते वाले बयान पर मोदी ने कहा की हमारी कुत्ते वाली परंपरा नही रही है. दरअसल खड्गे ने कहा था की गाँधी परिवार के लोगो ने देश के लिए जान दी जबकि संघ की तरफ से एक कुत्ता भी नही आया.

मोदी ने राहुल गाँधी पर तंज कसते हुए कहा की वो धमकी तो काफी पहले से दे रहे थे आख़िरकार भूकंप आ ही गया. जब SCAM में भी लोग सेवा और नम्रता का भाव देखते है तो धरती माता रूठ जाती है और भूकम आता है. इमरजेंसी पर मोदी ने कहा की उस समय देश का लोकतंत्र एक परिवार के हाथ में सौप दिया गया था.