मंगलवार को लखनऊ में बीएसपी प्रमुख मायावती ने पीएम मोदी पर उनके श्मशान और कब्रिस्तान वाले बयान को लेकर नसीहत दी. उन्होंने कहा कि पहले पीएम को अपने बीजेपी शासित राज्यों में हर गांव में हिंदुओं के श्मशान घाट बनवाने चाहिए, फिर यूपी में ये बात करनी चाहिए.

उन्होंने कहा क‌ि पीएम मोदी धर्म और जात‌ि के नाम पर घटिया राजनीत‌ि कर रहे हैं।.वह भेदभाव करते हैं. उन्होंने कहा क‌ि बीजेपी साम्प्रदाय‌िक पार्टी है उसने किसी भी मुस्लिम को टिकट नहीं दिया. मायावती ने कहा कि बीएसपी ने अपनी सरकार के समय हर धर्म का सम्मान किया है, फिर चाहे वह त्योहारों के समय बिजली देने का मुद्दा हो या फिर कानून व्यवस्था की बात हो.

मायावती ने आगे कहा क‌ि प्रधानमंत्री बताएं क‌ि बीजेपी शास‌ित राज्यों में क‌ितने श्मसान और कब्र‌िस्तान अलग हैं. उन्होंने कहा, ऐसी बयानबाजी करने से पहले प्रधानमंत्री को अपनी ग‌र‌िमा का ध्यान रखना चाह‌िए. उन्होंने कहा, नरेंद्र दामोदर मोदी यानी निगेटिव दलित मैन हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बसपा मुखिया इतने पर ही नहीं थमी उन्होंने कहा कि पीएम पिछले 2-3 दिनों से गलत बयानबाजी कर रहे है. मोदी की बयानबाजी में जाति धर्म अहम है. इस बार मोदी जी के बहकावे में यूपी की जनता नहीं आने वाली है. बीजेपी यूपी में सरकार नहीं बनाने जा रही है, वहीं सपा-कांग्रेस की हालत खराब है. बसपा ही पूर्ण बहुमत से सरकार बनाने जा रही है.

याद रहें फतेहपुर की रैली में पीएम नरेंद्र मोदी ने भेदभाव का आरोप लगाते हुए कहा था कि अगर गांव में कब्रिस्तान बनता है तो शमशान भी बनना चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा था कि रमजान में बिजली दी जाती है तो दिवाली पर भी बिजली मिलनी चाहिए. होली पर बिजली मिलती है तो ईद पर भी बिजली मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा था कि जाति धर्म के आधार पर किसी के साथ भेदभाव नहीं होना चाहिए.

Loading...