Sunday, August 1, 2021

 

 

 

देश को गुमराह कर रहे हैं मोदी, NPR के जरिए ही NRC लागू करने की तैयारी: ओवैसी

- Advertisement -
- Advertisement -

हैदराबाद
राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर देश को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी सरकार एनपीआर के जरिए एनआरसी लागू कराने की तैयारी में है।

ओवैसी ने कहा, ‘’पीएम मोदी को स्पष्ट करना चाहिए कि क्या केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने झूठ बोला था, जब उन्होंने संसद को सूचित किया था कि राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) को लागू किया जाएगा।’’ उन्होंने कहा, ‘’जब देश भर में एनआरसी होगा तो हर भारतीय को दिक्कत। भारत के पांच प्रतिशत लोगों के पास भी पासपोर्ट नहीं हैं। कल्पना कर सकते हैं कि करोड़ों लोग लाइन में लगे रहेंगे, किसलिए। अपनी नागरिकता साबित करने के लिए और कौन तय करेगा? प्रधानमंत्री को यह भी बताना चाहिए।’’

ओवैसी ने आगे कहा, ‘’एनपीआर के जरिए एनआरसी पर काम शुरू हो चुका है और वह बीजेपी को उन्हें गलत साबित करने की चुनौती देते हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘’निचले स्तर का कोई भी अधिकारी एनपीआर में गलती कर सकता है और यह गलती एनआरसी में भी रहेगी। बीजेपी मुझे गलत साबित कर दे।’’

ओवैसी ने कहा, ‘’अगर मोदी कह दें कि गृह मंत्री ने सदन में एनआरसी पर गलत बयान दिया था, तो वह अमित शाह के खिलाफ विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाएंगे।’’ उन्होंने दावा किया, ‘’पीएम मोदी ने भी एक न्यूज चैनल से यह कहा था कि समूचे देश में एनआरसी लागू किया जाएगा। मुझे नहीं पता कि प्रधानमंत्री राष्ट्र को क्यों गुमराह कर रहे हैं। यह उनके पद को शोभा नहीं देता।’’

जब ओवैसी से यह सवाल किया गया कि क्या बीजेपी ध्यान भटकाने के लिए यह सब कर रही है, तो उन्होंने कहा, ‘क्या लोगों में कन्फ्यूजन पैदा करना एनआरसी से ध्यान भटकाने की बीजेपी की रणनीति है?’ ओवैसी ने यह भी कहा कि CAA असंवैधानिक है और यह मूलभूत अधिकारों और देश की संरचना को नुकसान पहुंचाता है।

ओवैसी ने सवाल किया, ‘CAA को धर्म के आधार पर बनाया गया है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि पीएम के सामने सभी बराबर नहीं हैं और सिर्फ हिंदू समुदाय के लोग उनकी नजर में शरणार्थी हैं। अगर वह हिंदुओं को नागरिकता दे सकते हैं तो मुस्लिमों को क्यों नहीं?’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles