देश में शरणार्थी के तौर पर जीवन व्यतीत कर रहे रोहिंग्या समुदाय के आतंकियों से रिश्तें जोड़े जाने की कांग्रेस की मोदी सरकार ने कड़ी आलोचना की है. साथ ही कहा कि अगर सरकार के पास इस सबंध में सबूत है तो उन्हें सार्वजानिक किया जाए.

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि किसी के खिलाफ गलत आरोप नहीं लगाये जाने चाहिए. ध्यान रहे मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में अपने हलफनामे में रोहिंग्या समुदाय के आतंकियों से सबंध होने का हवाला देते हुए सर्व्वोच न्यायालय से इस मामले में हस्तक्षेप नहीं करने की अपील की है.

सुरजेवाल ने कहा, ‘‘सरकार के पास किसी समुदाय या व्यक्ति के आईएसआईएस से संबंध होने के जो भी सबूत हैं, उन्हें सार्वजनिक किया जाना चाहिए. दि किसी व्यक्ति के आईएसआईएस से संबंध हैं तो उसके खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई होनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि सरकार की और से ऐसे लोगों का निर्वासन पर्याप्त नहीं होगा. जब राष्ट्रीय सुरक्षा की बात आये तो सरकार को जो सही है वह करना चाहिए. उन्होंने कहा कि यह मामला उच्चतम न्यायालय के समक्ष विचाराधीन है और सर्वोच्च न्यायालय इस सिलसिले में सही निर्णय करेगा.

ध्यान रहे केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने हाल ही में बयान दिया कि रोहिंग्या शरणार्थी नहीं बल्कि गैर कानूनी घुसपैठिये हैं. म्यांमार इन लोगों को वापस लेने को तैयार है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?