केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मोदी सरकार और मुस्लिमो को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होने कहा कि मुसलमानों का भरोसा जीतने के लिए मोदी सरकार को बहुत काम करना पड़ेगा, क्योंकि ‘पिछले 70 सालों में उनके दिमाग में जहर भर दिया गया है।’

नकवी ने कहा, ‘‘मोदी सरकार का विकास का मसौदा, वोट का सौदा नहीं है। पिछले चार वर्षो के दौरान हमारी सरकार ने अल्पसंख्यकों के सशक्तिकरण के लिये प्रतिबद्ध पहल की है जिसका जमीन पर प्रभाव दिख रहा है।’’

उन्होने कहा कि 2019 में चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा सरकार को मुसलमानों को उनके विकास के लिए सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं की याद दिलानी होगी। खासकर ‘तीन तलाक’ के खिलाफ किए गए सरकार के प्रयास की याद।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

modi111

मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि प्रधानमंत्री से लेकर सरकार के सभी मंत्रियों द्वारा लगातार सम्पर्क एवं संवाद के माध्यम से समाज के सभी वर्ग के लोगों में विकास एवं विश्वास का माहौल पैदा करने की कोशिश की जा रही है।

अल्पसंख्यक मंत्रालय के कार्यों का जिक्र करते हुए नकवी ने कहा कि प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के माध्यम से देश के पिछड़े एवं अल्पसंख्यकों की अच्छी खासी आबादी वाले क्षेत्रों में शिक्षा, स्वास्थ्य, जलापूर्ति, कौशल विकास के लिये आधारभूत ढांचे के विकास का कार्य युद्ध स्तर पर जारी है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के तहत नवोदय एवं केंद्रीय विद्यालय की तर्ज पर स्कूलों की स्थापना का मार्ग प्रशस्त हुआ है। इस योजना के तहत अल्पसंख्यक बहुल क्षेत्रों में भवनों एवं सामुदायिक केंद्रों का निर्माण किया गया । इसके साथ ही समाज में सद्भाव एवं समरसता को बढ़ावा देने के लिये ‘सद्भाव मंडप’ की भी स्थापना की जा रही है।