कोरोना संकट में न्याय योजना लागू करें मोदी सरकार: मौलाना उमर कासमी

भोपाल: मध्य प्रदेश कांग्रेस सचिव मौलाना उमर कासमी ने कोरोना संकट के बीच कांग्रेस की न्याय योजना लागू कर हर गरीब के बैंक खाते में 7500 रुपए जमा करें।

उन्होने कहा कि लॉकडाउन को लागू हुए एक महिना हो चुका है। देश के गरीब, मजदूर और असहाय लोग भुखमरी के शिकार है। उन्होने कहा कि भोजन के अभाव में लोग राख़, मेंडक जैसी चीजों को खाकर अपना पेट भर रहे है। तो कई लोगों की आत्महत्या के भी मामले सामने आए है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि आजीविका के संकट का सामना कर रहे मजदूरों व गरीबों के लिए न्यूनमत आय गारंटी योजना लागू करना समय की मांग है। उन्होने कहा, लॉकडाउन कोरोना को रोकने में कितना सफल हुआ ये भी फिलहाल स्पष्ट नहीं है।

कासमी ने कहा कि मोदी सरकार कोरोना के मामले में देर से जागी। जबकि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डबल्यूएचओ) ने बहुत पहले ही चेतवानी जारी कर दी थी। उन्होने कहा कि मोदी सरकार ने राहुल गांधी के सुझाव को भी नजरअंदाज किया।

उन्होने सवाल उठाया कि अगर कोरोना को रोकने में लॉकडाउन विफल रहता है तो सरकार के पास क्या रणनीति है। कासमी ने कहा कि देश की जनता को हम कब तक घरों में कैद रख सकते है। मोदी सरकार को अपनी रणनीति जनता के सामने लाना चाहिए।

विज्ञापन