Saturday, June 12, 2021

 

 

 

मोदी को ज़िन्दों की फिक्र नहीं, मुर्दो की फिक्र हैं ज्यादा, नोटबंदी करके पहले ही पहुंचा चुके हैं कब्रिस्तान और श्मशान

- Advertisement -
- Advertisement -

यूपी चुनाव में चौथे चरण के ल‍िए सोमवार को  ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने इलाहाबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सपा प्रमुख अखिलेश यादव और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि मोदी को ज‍िन्दों की फिक्र नहीं है, मुर्दो की फिक्र ज्यादा है. वे पहले ही नोटबंदी करके लोगों को कब्रिस्तान और श्मशान पहुंचा चुके हैं.

उन्होंने कहा, ‘मोदी और अखिलेश में कोई फर्क नहीं है. ये एक ही सिक्के के दो पहलू हैं. एक बड़े भाई हैं तो दूसरे छोटे भाई. हिंदुस्तान के वजीरे आजम कहते हैं कि रमजान में बिजली आती है तो दिवाली पर भी बिजली आनी चाहिए. वो कहते हैं कि कब्रिस्तान अच्छा हुआ तो श्मशान भी अच्छा हो.’

नोटबंदी को लेकर पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए ओवैसी ने कहा, ‘आज श्मशान की बात करते हैं मोदी…आपने 500 और 1000 रुपये के नोट बंद करके इंसानों को कब्रिस्तान, श्मशान पहुंचाने का काम किया. इससे 150 से ज्यादा लोगों की जान चली गई. कोई कब्रिस्तान को गया तो कोई श्मशान को गया.’ गुजरात दंगों का जिक्र करते हुए ओवैसी ने कहा, ‘2002 में तीन हजार हिंदुस्तानियों का कत्ल जब गुजरात में हुआ तो बताओ कि क्या वो दिवाली थी या रमजान था.’

सपा सरकार पर निशाना साधते हुए ओवैसी ने कहा, ‘सपा सरकार में कानून व्यवस्था के लिए पुलिस पर 16,000 करोड़ रुपये का बजट है, लेकिन हकीकत यह है कि अखिलेश के पांच साल के कार्यकाल में 400 से अधिक दंगे हुए जिसमें मुजफ्फरनगर दंगा भी शामिल है.’ उन्होंने कहा कि धर्मनिरपेक्षता तो एक नारा बन चुका है गरीब आवाम को धोखा देने का और ये सियासी दल इसका इस्तेमाल वोट हासिल करने के लिए करती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles