Sunday, January 23, 2022

महबूबा मुफ्ती ने उठाया घाटी के बच्चों के स्कूल न जा पाने का मुद्दा

- Advertisement -

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका के ह्यूस्टन शहर में आयोजित ‘हाउडी मोदी’ इवेंट के दौरान दिये बयान पर सवाल उठाते हुए जिस फैसले को लोगों के हित सुरक्षित करने के लिए लाया गया था, उससे उसी राज्य के लोग वंचित हैं।

उन्होने ट्वीट किया, ‘ये अजीब है कि जिस फैसले को जम्मू-कश्मीर के विशेष हितों को सुरक्षित करने के लिए लाया गया था, उसकी खुशी हर ओर है, बस उस राज्य (जम्मू-कश्मीर) में नहीं है जिसके फायदे के लिए इसे लाया गया था। जहां कश्मीर में लोगों को बोलने से रोका जा रहा है, वहीं मास हिस्टीरिया के जरिए इस फैसले को सही ठहराने की कोशिश की जा रही है।’

महबूबा मुफ़्ती ने एक अन्य ट्वीट में 50 दिनों से बंद पड़े स्कूलों का मुद्दा उठाया। उन्होंने इसे लेकर एक ट्वीट भी किया। पीएम मोदी को टैग करते हुए महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट में लिखा कि छह साल की हाजिका कश्मीर के उन लाखों  बच्चों में से एक है जो बीते 50 दिनों से स्कूल नही जा पाएं हैं। उनके स्कूल यूनिफॉर्म पर धूल जम चुकी है और उन्हें शिक्षा के अधिकार से वंचित रखा जा रहा है।आपके लिए स्थिति का बेहतर होना इसे ही कहते हैं क्या? यह कितना जायज है?

महबूबा मुफ्ती ने अपने ट्वीट में यूनिसेफ, मलाला युसुफ़ज़ई, मिशेल ओबामा और प्रियंका चोपड़ा को भी टैग किया है. महबूबा मुफ्ती ने अपने ट्वीट के साथ एक वीडियो भी साझा किया है जिसमें एक छह साल की बच्ची स्कूल यूनिफॉर्म में दिख रही है और उसकी मां उससे सवाल कर रही है।

आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद पीडीपी की मुखिया महबूबा मुफ्ती, नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला, फारूक अब्दुल्ला समेत कई नेता हिरासत में है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles