Friday, September 24, 2021

 

 

 

जमात ए इस्लामी पर प्रतिबंध के खिलाफ सड़क पर उतरी महबूबा मुफ़्ती

- Advertisement -
- Advertisement -

केंद्र सरकार द्वारा जमात-ए-इस्लामी (जम्मू-कश्मीर) पर प्रतिबंध के खिलाफ श्रीनगर में महबूबा मुफ्ती और पीडीपी कार्यकर्ताओं ने खुलकर विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है। उन्होने पीडीपी वर्कर के साथ मिलकर श्रीनगर में केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा ने इससे पहले ट्वीट किया था, ‘लोकतंत्र विचारों का संघर्ष होता है, ऐसे में जमात-ए-इस्लामी (जेके) पर पाबंदी लगाने की दमनात्मक कार्रवाई निंदनीय है और यह जम्मू कश्मीर के राजनीतिक मुद्दे से अक्खड़ और धौंस से निपटने की भारत सरकार की पहल का एक अन्य उदाहरण है।’

उन्होंने कहा, ‘जमात-ए-इस्लामी से भारत की सरकार इतनी असुविधाजनक नहीं है। कश्मीरियों के लिए अथक परिश्रम करने वाले एक संगठन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। क्या अब बीजेपी विरोधी राष्ट्र विरोधी हो रहा है?’ बता दें कि केंद्र सरकार ने गुरुवार को आतंकवाद निरोधक कानून के तहत जमात-ए-इस्लामी (जम्मू-कश्मीर) पर पांच साल के लिए पाबंदी लगाई।

ध्यान रहे ‘जमात-ए-इस्लामी’ के कई नेताओं और कार्यकर्ताओं के आवास सहित कई अन्य सम्पत्तियां शुक्रवार रात को शहर और घाटी के कई इलाकों में सील कर दी गईं। साथ ही ‘जमात-ए-इस्लामी’ के नेताओं के बैंक खाते भी सील कर दिए गए हैं।

अधिकारी ने बताया कि विभिन्न जिलाधिकारियों ने भी जमात नेताओं की चल एवं अचल संपत्तियों की सूची मांगी है। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि संगठन पर प्रतिबंध या धनशोधन मामलों में एनआईए द्वारा की गई जांच से इसका कोई संबंध है या नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles