उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हिंदू राष्ट्र के बयान को लेकर बसपा प्रमुख मायावती भड़क उठी हैं. उन्होंने इस बयान को असंवैधानिक बताते हुए देश की सेकुलर छवि के लिए गहरा धक्का करार दिया.

मायावती ने कहा कि योगी आदित्यनाथ को देश का संविधान पढऩा चाहिए. संविधान की बुनियाद धर्मनिरपेक्षता है. अगर वो हिन्दू राष्ट्र बनाएंगे तो सिख, पारसी और मुसलमान कहां जाएंगे. उन्होंने आगे कहा, योगी आदित्यनाथ आरएसएस का एजेंडा उत्तर प्रदेश में लागू कर रहे हैं.

बसपा प्रमुख ने कहा, इसमें कोई हैरानी की बात नहीं है, योगी आदित्यनाथ वहीं कह रहे हैं कि जो बीजेपी-आरएसएस का एजेंडा है. योगी आदित्यनाथ असंवैधानिक बातें करते हैं, उन्हें पहले संविधान पढ़ लेना चाहिए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौरतलब रहें कि डीडी न्यूज को दिए अपने पहले टीवी इंटरव्यू में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हिंदू राष्ट्र की अवधारणा सही है. और इस अवधारणा को अपनाने में संकोच नहीं करना चाहिए.

Loading...