लखनऊः बसपा अध्यक्ष मायावती ने रविवार को उत्तर प्रदेश की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में सपा से गठबंधन की खबरों को खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा कि बीएसपी ने कर्नाटक के अलावा किसी अन्य राज्य में किसी भी पार्टी के साथ कोई गठबंधन नहीं किया है.

मायावती ने संवाददाताओं से कहा कि पिछले दो तीन दिन से मीडिया में खबरें प्रचारित की जा रही हैं कि उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिये सपा और बसपा का गठबंधन हो गया है या होने वाला है, जो गलत है. उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा और अन्य किसी पार्टी के साथ जब भी लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन होगा, तो वह गुपचुप नहीं बल्कि खुलकर होगा.

बसपा प्रमुख ने कहा कि अभी लोकसभा चुनाव घोषित नहीं हुए हैं और उनकी पार्टी उन चुनाव में सही समय पर अंतिम निर्णय लेगी. वह गठबंधन करते वक्त यह देखेंगी कि उनकी पार्टी को गठबंधन के तहत सम्मानजनक संख्या में सीटें मिल रही हैं या नहीं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

फूलपुर और गोरखपुर उपचुनाव में सपा को समर्थन पर सफाई देते हुए मायावती ने कहा कि इन दोनों सीटों पर बसपा ने पूर्व की भांति अपने उम्मीदवार नहीं उतारे हैं. मैंने कार्यकर्ताओं को निर्देश दिया है कि जो भी विपक्षी उम्मीदवार बीजेपी को हराता नजर आए उसे अपना कीमती वोट दो. सपा उम्मीदवार को वोट देने के निर्देश को उन्होंने तथ्यों से परे बताया.

उन्होंने कहा कि यह गठबंधन नहीं बल्कि वोटों का हस्तांतरण है और इसमें कुछ भी गलत नहीं है. उन्होंने कहा कि राजस्थान और गुजरात चुनाव में भी मीडिया द्वारा इस तरह की झूठी खबरों को फैलाया गया था.