रावण के बुआ कहने पर मायावती ने कहा – राजनीतिक स्वार्थ के लिए मुझसे रिश्ता दिखा रहे

11:32 am Published by:-Hindi News

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने यूपी के सहारनपुर में जातीय  दंगे के आरोप में जेल से रिहा हुए भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर से किसी भी रिश्ते से इंकार करते हुए कहा कि राजनीतिक स्वार्थ के लिए लोग मुझसे रिश्ता दिखा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि वह करोड़ों लोगों की लड़ाई लड़ रही हैं। उन्होंने रावण के लिए कहा कि अलग से संगठन बनाने की जरूरत क्यों? बसपा के झंडे के नीचे आकर लड़ाई लड़ें। मायावती ने कहा कि राजनीतिक स्वार्थ के लिए लोग मुझसे रिश्ता दिखा रहे हैं।

बसपा प्रमुख ने कहा कि सहारनपुर हिसा में आरोपी चंद्रशेखर मुझसे रिश्ता दिखा रहा है जबकि मेरा सिर्फ गरीबों से रिश्ता है। ऐसे किसी व्यक्ति से मेरा रिश्ता नही है जो समाज में हिंसा को बढ़ाने का काम करते हैं। भीम आर्मी पर उन्होने कहा, समाज में ऐसे बहुत से संगठन बनते चले आ रहे हैं जो अपना धंधा चलाते हैं।

chandrashekhar 75921

बता दें कि गुरुवार को जेल से रिहा हुए चंद्रशेखर ने मायावती को बुआ बताते हुए कहा, मैं बुआ जी के बारे में कुछ नहीं कहूंगा, उन्होंने देश के लिए बहुत काम किया है, मैं सलाम करता हूं। मेरा किसी राजनीतिक पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है। भीम आर्मी एक अलग संगठन है, हम उस पार्टी को वोट देंगे जो बीजेपी को हराए।

यूपी के सहारनपुर में 5 मई 2017 को हुई हिंसा के बाद चंद्रशेखर रावण को नेशनल सिक्‍योरिटी एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया था। इस दौरान ठाकुरों और दलित बिरादरी के बीच हिंसा थी।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें