बहुजन समाज पार्टी (बसपा) मुखिया मायावती ने सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ के समर्थन में खुलकर सामने आई हैं. मायावती ने तीस्ता सीतलवाड़ के एनजीओ सबरंग ट्रस्ट पर कारवाई को द्वेषपूर्ण बताते हुए कहा कि केन्द्र की ‘गलत’ नीतियों के खिलाफ संघर्ष करने वाले संगठनों को भी निशाना बनाया जा रहा है. तीस्ता सीतलवाड़ के एनजीओ सबरंग ट्रस्ट का पंजीकरण रद्द होने पर उन्होंने कहा कि इसका अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर भी विरोध हो रहा है.

मायावती ने आगे कहा रोहित वेमुला आत्महत्या मामले और इशरत जहां मुठभेड़ मामले में ‘पक्षपातपूर्ण ढंग से’ काम करने वाली केन्द्र की भाजपा सरकार अब अपनी ‘गलत’ नीतियों के खिलाफ आवाज उठाने वाले गैरसरकारी संगठनों को भी निशाना बना रही है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कैराना के मुद्दे पर मायावती ने कहा कि सपा और भाजपा मिलकर कैराना से लोगों के पलायन के मुद्दे पर नूराकुश्ती कर रही हैं. यह अच्छी बात रही कि जनता उनके बहकावे में नहीं आयी. मगर भाजपा और सपा अब भी यात्राएं निकालने की होड़ कर माहौल बिगाड़ने की फिराक में हैं.

उल्लेखनीय है कि केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने विदेशी मदद के दुरुपयोग के आरोप में तीस्ता का एफसीआरए पंजीकरण गत गुरुवार को रद्द कर दिया था.