Tuesday, July 27, 2021

 

 

 

मुसलमानों से बोली मायावती – भाजपा को टक्कर देने लायक नहीं कांग्रेस, वोट देकर बर्बाद न करें

- Advertisement -
- Advertisement -

सहारनपुर. देवबंद में रविवार को सपा प्रमुख अखिलेश यादव, बसपा सुप्रीमो मायावती और रालोद प्रमुख चौधरी अजित सिंह ने रैली की।

मायावती ने कहा, “मुस्लिम समाज के लोगों से आग्रह है कि कांग्रेस इस लायक नहीं है कि वह भाजपा को टक्कर दे सके। गठबंधन ही भाजपा को टक्कर दे सकता है। इस बात का अहसास कांग्रेस को भी है। कांग्रेस यह मानकर चल रही है कि हम जीतें या ना जीतें गठबंधन नहीं जीतना चाहिए। कांग्रेस ने जगह-जगह ऐसे लोगों को उतारा है, जिससे भाजपा के लोगों को फायदा पहुंचे। मुस्लिम समाज आप लोगों को अपना वोट नहीं बांटना चाहिए। बसपा, सपा और लोगों को ही वोट दीजिए।”

मायावती ने बीजेपी और कांग्रेस दोनों को निशाने पर लेते हुए कहा, ‘कांग्रेस गलत नीतियों की वजह से हारी थी। बीजेपी का कोई नाटक काम नहीं आएगा। बीजेपी जाने वाली है, महागठबंधन आने वाला है। अब बीजेपी-कांग्रेस को आजमाने की जरूरत नहीं है। बीजेपी जैसे वादे अब कांग्रेस कर रही है। राफेल डील में बीजेपी ने भ्रष्टाचार किया। चुनाव के वक्त ही कांग्रेस-बीजेपी को गरीबों की याद क्यों आती है। 15 लाख रुपए देने का वादा कर बीजेपी ने गरीबों का मजाक उड़ाया। किसानों को छह हजार रुपए देने से उनका भला नहीं होगा। पिछड़े वर्गों का शोषण हो रहा है।’

muslim people praying
source: Youtube

मायावती ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को भी निशाने पर लिया। उन्होंने कहा, ‘इंदिरा ने गरीब हटाओ का नाटक किया था।’ इससे पहले मायावती लगातार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भी निशाने पर लेती रही है। जनसभा में उन्होंने एक बार फिर ईवीएम का मसला उठाया और कहा कि अगर इस बार गड़बड़ी नहीं हुई तो महागठबंधन की जीत पक्की है।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा, ”जैसी भाजपा है, वैसी ही कांग्रेस है। इनकी नीतियां एक जैसी हैं। आप ध्यान रखें कि वोट घटने ना पाए और बंटने ना पाए। कांग्रेस अपनी पार्टी की पैठ बनाना चाहती है। हमारी आपसे अपील है कि आप इस बात का ध्यान रखें।”

अखिलेश यादव ने पीएम मोदी को निशाने पर लेते हुए कहा, ‘अच्छे दिनों का वादा करके बुरे दिन ले आए। ये पहली सरकार है जिसमें न नौकरी है न रोजगार है। हमारा देश पीछे जा रहा है। ये देश को बदलने का चुनाव है। एक-एक चौकीदार की चौकी छीन लेंगे। डरकर मोदीजी की भाषा बदल गई है। अंग्रेजों के बाद सबसे ज्यादा बीजेपी ने लोगों को बांटा है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles