मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह रविवार को जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में सेना बेस कैंप पर हुए आतंकी हमले में मसूद अजहर के संगठन जैश-ए- मोहम्मद का नाम सामने आने के बाद भारतीय जनता पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की अगुवाई वाली एनडीए सरकार द्वारा  जैश सरगना मसूद अजहर की रिहाई का खामियाजा देश भुगत रहा है.

दिग्विजय सिंह ने कहा कि 1999 में इंडियन एयरलाइंस की फ्लाइट आईसी-814 हाईजैक में मसूद अजहर को छोड़कर पूर्ववर्ती एनडीए सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता किया था. उन्होंने आगे कहा कि एनडीए सरकार ने मसूद की रिहाई के साथ ही ये साफ कर दिया था कि वो आतंकवाद को कुचलने के लिए कितने गंभीर हैं.

दिग्विजय सिंह ने सोमवार को एक के बाद एक कई ट्वीट किए जिसमे उन्होंने कहा कि ये सरकार बड़ी-बड़ी बातें करती है, लेकिन जो कुछ हो रहा है कि वो सरकार की नाकामी है. उन्होंने पाकिस्तान को अलग थलग करने के लिए उस पर अंतरराष्ट्रीय दबाव बनाने को कहा.  अथ ही उन्होंने आगे लिखा.  हमले के पीछे मसूद अजहर के जैश-ए-मोहम्मद का हाथ है. निश्चित तौर पर इसमें पाकिस्तान प्रशासन की पूरी मिलीभगत है.”

उन्होंने आगे कहा, “हमें नियंत्रण रेखा के पास मौजूद सेना के शिविर की सुरक्षा में इसकी नाकामी की भी पड़ताल करनी चाहिए.”

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?