man

नई दिल्‍ली : देश में लगातार बढ़ रही पेट्रोल और डीजल की कीमतों के खिलाफ काँग्रेस की और बुलाए गए भारत बंद को 21 विपक्षी पार्टियों का समर्थन मिला है। इनमें सपा, राजद, जेडीएस, राकांपा, मनसे, हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा और कम्युनिस्ट पार्टियां शामिल हैं।

इस दौरान देश की सबसे पुरानी पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजघाट पर जाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को अपना श्रद्धासुमन अर्पित किया। कैलास मानसरोवर यात्रा से लौटे ‘शिवभक्त’ राहुल ने कैलास मानसरोवर झील से लाए जल को बापू की समाधि पर चढ़ाया। राहुल ने इसके बाद राजघाट से रामलीला मैदान की पैदल यात्रा में भाग लिया। राहुल के साथ 20 विपक्षी दलों के नेताओं ने भी इस मार्च में हिस्सा लिया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस मौके पर पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने केंद्र की बीजेपी सरकार पर हमला बोला। उन्‍होंने कहा ‘मोदी सरकार ने बड़ी संख्‍या में ऐसे कदम उठाए हैं, जो देशहित में नहीं हैं। मोदी सरकार को बदलने का समय जल्‍द ही आएगा।’ उन्होंने पीएम मोदी के चुप्पी पर सवाल उठाते हुए कहा कि देशभर में बढ़ती महंगाई, राफेल और लिंचिंग पर चुप क्यों है? उन्होंने कहा कि मीडिया पर अपना रोल निभाए, जिससे जनता की आवाज लोगों तक पहुंचे। पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा कि पीएम मोदी अक्सर मन की बात करते हैं, लेकिन वह कभी भी जन की बात नहीं सुनते हैं।

एनसीपी महासचिव और सांसद तारिक अनवर ने कहा कि देश की सरकार किसान, युवा और जनविरोधी है। जेडीएस के नेता दानिश अली ने कहा पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए पूछा कि आपने किस किसान की इनकम बढ़ाया है। फसल बीमा योजना पर सवाल उठाते हुए उन्होंने इसे स्कैम बताया। उन्होंने पूछा की मॉब लिंचिंग के लिए जिम्मेदार कौन है?

Loading...