saty

दिल्ली में आईएएस अफसरों की कथित हड़ताल खत्म करने के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल के घर भूख हड़ताल पर बैठे उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को भी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अरविंद केजरीवाल ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

केजरीवाल ने ट्वीट किया, ” मनीष सिसोदिया को अस्पताल ले जाया जा रहा है। मनीष सिसोदिया की जांच कर रहे डॉक्टरों ने बताया कि उनकी स्थिति कभी भी गंभीर हो सकती है। इससे पहले दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को तबीयत बिगड़ने के बाद रविवार रात अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मनीष सिसोदिया के शरीर में कीटोन लेवल 6.4 से 7.4 तक बढ़ गया है। सामान्य स्तर पर यह जीरो होना चाहिए। +2 को भी खतरे का निशान माना जाता है। केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, सत्येन्द्र जैन और गोपाल राय पिछले आठ दिन से उपराज्यपाल अनिल बैजल के कार्यालय में धरने पर बैठे हैं।

इस सबंध मे आज बीजेपी के विधायक विजेंदर गुप्ता की याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट भी सुनवाई हुई। कोर्ट ने पूछा कि धरने से पहले एलजी से अनुमति क्यों नहीं ली गई। गुप्ता ने दिल्ली के सीएम और मंत्रियों के धरना खत्म कराने के लिए हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। कोर्ट ने कहा कि इस मामले का समाधान होना चाहिए। मामले की अगली सुनवाई अब 22 जून को होगी।

इस पर आप नेता संजय सिंह ने कहा कि धरने का कदम बाकी सभी लोकतांत्रिक रास्ते अपनाने के बाद लिया गया है। संजय सिंह ने कहा, ‘जो कुछ कोर्ट ने पूछा है उसका जवाब दिया जाएगा। हम बताना चाहते हैं कि धरना देने की नौबत एक दिन में नहीं आई, सभी लोकतांत्रिक रास्ते अपनाए गए, जब कुछ काम नहीं आया तो ये अंतिम रास्ता अपनाया गया।’