Monday, August 2, 2021

 

 

 

कमलनाथ सरकार ने बीजेपी पर 8 एमएलए को बंधक बनाने का आरोप लगाया

- Advertisement -
- Advertisement -

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा भाजपा पर लगाए गए हॉर्स ट्रेडिंग के आरोपों के बाद अब कांग्रेस ने आरोप लगाया कि बीजेपी ने 8 विधायकों को बंधक बना लिया है। इन विधायकों में 4 कांग्रेस के हैं, एक निर्दलीय और बाकी विधायक एसपी और बीएसपी के हैं। इन सभी को गुड़गांव के आईटीसी मराठा होटल में बंधक बनाया।

इससे पहले पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजयन सिंह ने आरोप लगाए थे कि उनकी पार्टी के विधायकों को बीजेपी चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली ले जा रही है, जबकि बीजेपी ने साफ शब्दों में कहा था कि उसका इससे कोई लेना देना नहीं है और उन्होंने इसे कांग्रेस की आंतरिक कलह करार दिया था।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा, “हमें लगता है कि होटल में 10-11 विधायक थे, जिनमें 6 विधायक कांग्रेस खेमे में लौट आए हैं। बाकी के चार विधायकों को बीजेपी ने बेंगलुरु भेज दिया है, लेकिन वो सभी भी लौट आएंगे।” जो विधायक गुरुग्राम होटल पहुंचे थे, उनमें कांग्रेस के चार विधायक थे। इसके अलावा बीएसपी और समाजवादी पार्टी के भी विधायक थे। दिग्विजय सिंह ने कहा कि मध्य प्रदेश की सरकार सुरक्षित थी, है और रहेगी।

वहीं कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने कहा- ”भाजपा लोकतंत्र की ह*त्या कर लोगों में डर फैलाना चाहती है। नरेंद्र मोदी ने अलग तरह की राजनीति की बात कही थी। विधायकों को खरीदने के लिए 30-35 करोड़ रुपए का लालच दिया गया है। हम जब होटल में गए तो एक नरोत्तम मिश्रा एक विधायक को तो जबरन उठाकर ले गए। इस पूरे घटनाक्रम के मास्टरमाइंड शिवराज सिंह हैं।” जयवर्धन सिंह ने दावा किया- कांग्रेस के सभी 6 विधायक लौट आए हैं।

इसके अलावा मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार सुबह दावा किया था कि उनकी सरकार को कोई खतरा नहीं है और इस बारे में चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। मुख्यमंत्री ने हालांकि यह जरूर कहा कि बीजेपी की तरफ से उनके नेताओं को खरीदने की कोशिश चल रही है। उन्होंने पत्रकारों से कहा था, ‘विधायकों ने मुझे बताया कि उन्हें काफी धनराशि देने का प्रस्ताव मिला है। मैंने विधायकों से कहा है कि अगर मुफ्त में यह पैसा मिल रहा है तो वे इसे ले लें।’

इस पर बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा, ‘बीजेपी का इस पूरे मामले में कोई लेना देना नहीं है। वास्तव में ये सब अटकलें और आरोप कांग्रेस की आतंरिक कलह का हिस्सा हैं जो सब आगामी राज्यसभा चुनाव के मद्देनजर हो रहा है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles