Wednesday, June 29, 2022

लखनऊ एनकाउंटर पर बोले योगी के मंत्री – ‘गोली उन्हीं को लग रही, जो वास्तव में अपराधी’

- Advertisement -

एक के बाद एक एनकाउंटर की झड़ी लगाने वाली योगी सरकार की यूपी पुलिस अब लखनऊ में शुक्रवार रात एप्पल (Apple) के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी (Vivek Tiwari) की मौत के मामले में उलझ चुकी है। विवेक की मौत एक कॉन्स्टेबल की गोली से हुई है।

मामले की गंभीरता को समझते हुए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस घटना की जांच की जाएगी और जरूरत पड़ी तो सीबीआई जांच के आदेश भी दिए जाएंगे। हालांकि सरकार में मंत्री धर्मपाल सिंह का इसके उलट बयान सामनेआया है। धर्मपाल सिंह ने मीडिया के सवालों पर कहा, ‘गोली उन्हीं को लग रही है, जो वास्तव में अपराधी हैं।’ विवेक तिवारी हत्याकांड पर उन्होंने यह भी कहा, ‘जो गलती करेगा उसको दंड मिलेगा, किसी भी हाल में किसी को बख्शा नहीं जाएगा।’

धर्मपाल सिंह ने कहा, ‘देखिए एनकाउंटर में योगी सरकार में ऐसी कोई गलती नहीं हो रही है। गोली उन्हीं को लग रही है जो वास्तव में अपराधी हैं। समाजवादी पार्टी की सरकार में जो गुंडाराज था, माफिया राज था वही तीन-तड़ाम कर रहे हैं। बाकी सब ठीक-ठाक है। अपराधी पर कोई समझौता नहीं है। जो आपने सवाल किया है, देश का और प्रदेश का दोनों का सौभाग्य है। वाराणसी का और सौभाग्य है, यहां से सांसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं। जहां से राजाओं का राज्य समाप्त होता है वहां से योगीराज शुरू होता है। न्याय सबको, तुष्टीकरण किसी को नहीं। जो गलती करेगा उसको दंड मिलेगा, किसी भी हाल में किसी को बख्शा नहीं जाएगा।’

यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने विवेक तिवारी हत्या मामले में कहा कि यह दुखद घटना है। यह हत्या का मामला है और दोनों ही सिपाहियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों पुलिसवाले के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज किया गया है।

वहीं, लखनऊ के  SSP कलानिधि नैथानी ने कहा कि लखनऊ में पुलिस की गोली से एप्पल के एरिया मैनेजर की हत्या मामले में एसपी अपराध के अंतर्गत SIT गठित की जा चुकी है। मैंने व्यक्तिगत तौर पर जिला मजिस्ट्रेट से मजिस्ट्रेट इंक्वायरी की मांग की है।

हालांकि गोली चलाने वाले आरोपी कॉन्स्टेबल प्रशांत चौधरी ने अपने बचाव में कहा है, ‘हम लोग गश्त पर थे। इसी दौरान विवेक ने हम पर गाड़ी चढ़ाई। विवेक का इरादा हमें जान से मारने का था। उसने तीन बार गाड़ी रिवर्स गियर में करके हमें कुचलने की कोशिश की। अंदर गाड़ी में कौन बैठा था यह नहीं दिखा।’

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles