नई दिल्ली | मशहूर कवि और आम आदमी पार्टी के संस्थापक सदस्य कुमार विश्वास आजकल पार्टी से कुछ उखड़े उखडे से चल रहे है. खासकर पंजाब विधानसभा चुनावो में मिली हार के बाद वो पार्टी में थोडा विश्वास खोते नजर आये है. यही नही उन्होंने केजरीवाल की नाक का सवाल बने एमसीडी इलेक्शन में भी प्रचार नही किया. इसके अलावा अभी हाल में आई उनकी एक विडियो से भी स्पष्ट सन्देश गया की वो पार्टी से नाराज है.

एमसीडी इलेक्शन में करारी हार का सामना करने के बाद अब समय आ गया है जब पार्टी को आत्ममंथन करने की जरुरत है और उन कारणों को दूर करना है जिसकी वजह से उनकी हार हुई. हालांकि पिछले तीन दिनों से पार्टी में मंथन का दौरा चल रहा है. गुरुवार को केजरीवाल ने सभी विधायको और नवनिर्वाचित पार्षदों की एक बैठक भी बुलाई थी. लेकिन सभी को कुमार विश्वास की प्रतिक्रिया का इन्तजार था जो अभी तक नही आई थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अब इसी मसले पर कुमार ने अपनी चुप्पी तोड़ी है. एक निजी चैनल से बात करते हुए कुमार ने सभी पहुलुओ पर बात की. उन्होंने एमसीडी में हार के लिए ईवीएम् को नही बल्कि जनता का समर्थन नही मिलने को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा की हम जनता और अपने कार्यकर्ताओं से सही संवाद नही कर पाए इसलिए हमारी हार हुई. पार्टी के अन्दर कुछ फैसले बंद कमरे में लिए गये इसलिए सही प्रत्याशियों का चयन नही हुआ.

कुमार ने आगे कहा की ईवीएम् में गड़बड़ी एक मसला है लेकिन उसे सही मंच पर उठाना चाहिए. उसके लिए कोर्ट है, चुनाव आयोग है. हमें यह सोचने की जरुरत है की जंतर मंतर पर हम भ्रष्टाचार के लिए आन्दोलन करे या मोदी, कांग्रेस और ईवीएम् के लिए. हमें एक पार्टी के रूप में बदलाव की जरुरत है. इसके लिए हमें मिलकर सोचना होगा. गोपाल राय के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष बनने पर उन्होंने कहा की वो सक्षम व्यक्ति है और यह फैसला बहुमत से लिया गया.

Loading...