Friday, December 3, 2021

जानिए असदुद्दीन ओवैसी की संपत्ति और आपराधिक मुकदमों के बारे में

- Advertisement -

आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने सोमवार को हैदराबाद लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल किया। इस सीट पर पहले चरण में 11 अप्रैल को चुनाव होना है।

नामांकन भरते समय असदुद्दीन ओवैसी ने 13 करोड़ रुपए से ज्यादा की संपत्ति घोषित की है। ओवैसी ने यह भी बताया है कि उनके पास कोई वाहन नहीं है। ओवैसी की चल संपत्ति 1.67 करोड़ रुपए जबकि अचल संपत्ति 12 करोड़ रुपये से ज्यादा है।

हलफनामे के मुताबिक, उनकी पत्नी के पास 10.40 लाख रुपए की चल-अचल संपत्ति और 3.75 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है। साल 2017-18 के दौरान औवेसी की आय पिछले साल 13.33 लाख रुपए से घटकर 10 लाख रुपये रही। हलफनामे में असदुद्दीन ओवैसी ने यह भी घोषणा की है कि उनके ऊपर 9.30 करोड़ रुपये का कर्ज है, जिसमें छोटे भाई अकबरुद्दीन ओवैसी से लिया गया पांच करोड़ रुपए का कर्ज भी शामिल है।

उनके पास एक NP BORE.22 पिस्टल है, जिसकी कीमत एक लाख रुपए है। साथ ही एक NP BORE 30-60 राइफल भी है, जिसकी कीमत भी एक लाख रुपए ही है। औवेसी के पास नकद दो लाख रुपए हैं और 43 लाख रुपए से ज्यादा बैंक में जमा हैं। साल 2014 के चुनावों में औवेसी ने 27.84 लाख रुपये की अचल संपत्ति और 1.40 करोड़ रुपये की कुल देनदारियों के साथ 3.10 करोड़ रुपये से ज्यादा की अचल संपत्ति घोषित की थी।

औवेसी के पास कोई कृषि या गैर-कृषि भूमि या व्यावसायिक जमीन नहीं है. उनके आवासीय भवनों में शास्त्रीपुरम में एक घर शामिल है, जहां वह फिलहाल रह रहे हैं. 36,250 वर्ग फुट के एक निर्मित क्षेत्र के साथ इस संपत्ति में ओवैसी की तीन-चौथाई और उनकी पत्नी की एक-चौथाई हिस्सेदारी है। घोषणा के मुताबिक औवेसी ने दो करोड़ रुपए में जमीन खरीदी और निर्माण के लिए 11 करोड़ रुपये का निवेश किया। घर का अनुमानित वर्तमान बाजार मूल्य 15 करोड़ रुपये है. उनके पास मिश्री गुंज में 60 लाख रुपये का एक और घर है। नई दिल्ली के द्वारका, नवसंगम के एक फ्लैट में उनकी 2/8वीं हिस्सेदारी (37.50 लाख रुपये) है।

ओवैसी के खिलाफ पांच आपराधिक मामले लंबित

घोषणा में यह भी उल्लेख किया गया है कि उनके खिलाफ पांच आपराधिक मामले लंबित हैं। उन्होंने घोषित किया कि उन्हें किसी भी आपराधिक अपराध के लिए दोषी नहीं ठहराया गया। बता दें कि टीआरएस ने हैदराबाद सीट से अपना कोई उम्मीदवार नहीं उतारा है, ये सीट ओवैसी के लिए छोड़ दी गई है। ओवैसी पिछले तीन बार से उसी सीट पर सांसद हैं। वो 2004, 2009 और 2014 से लगातार जीतते आ रहे हैं। हैदराबाद सीट को एआईएमआईएम का गढ़ माना जाता है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles