केरल भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष पीएस श्रीधरन पिल्लई ने हाल ही में चुनाव प्रचार के दौरान मुस्लिमों को लेकर ऐसी टिप्पणी की। जिसको लेकर पूरे राज्य में बवाल मचा हुआ है। कांग्रेस पार्टी ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष से बयान को लेकर तुरंत माफी मांगने की मांग की है। कांग्रेस ने माफी नहीं मांगने की सूरत में एफआईआर दर्ज कराने की धमकी भी दी है।

दरअसल, रविवार को अट्टिंगल में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पिल्लई ने कहा कि मुस्लिमों की पहचान ‘उनके कपड़े खोलने’ से हो जाएगी। उन्होंने स्पष्ट तौर पर खतना के संबंध में यह बातें कही। उन्होंने कहा, ‘हमारे राहुल गांधी, येचुरी और पिनारई विजयन कह रहे हैं कि हमारे सैनिकों को वहां जाकर मारे गए लोगों की गिनती करनी चाहिए। उनकी जाति, धर्म, इत्यादि। अगर वो मुस्लिम हैं, तो उसके कुछ निशान भी होंगे।’

Loading...

उन्होंने आगे कहा, ‘यदि आप उनके कपड़े हटाएंगे तो आपको पता चल जाएगा। हमें यह सब करना होगा जो वो (विपक्ष) कह रहे हैं।’ भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के इस बयान से नाराजगी जाहिर करते हुए सीपीएम के राज्य सचिव कोडियारी बालकृष्णन ने कहा कि यह अत्यंत ही घृणित, सांप्रदायिक प्रचार का हिस्सा है।

bjp

सीपीएम और कांग्रेस का आरोप है कि पिल्लई ने अपने इस बयान से मुस्लिम समुदाय की भावनाएं आहत की हैं। वहीं केरल सरकार में यूडीएफ की सहयोगी पार्टी इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के नेता पीके कुनालिकुट्टी ने कहा कि भाजपा को यह समझने की जरुरत है कि यहां केरल में ‘योगी मॉडल’ नहीं चलेगा।

हालांकि, पिल्लई ने टीएनएम से बातचीत में ऐसे किसी भी बयान से इनकार किया है। उन्होंने कहा, ‘यह हिमालय जैसा झूठ है। मैंने कहीं भी कभी भी ऐसी कोई टिप्पणी नहीं की है। मैं अपने ऊपर लगाए गए आरोपों और चुनाव आयोग में इसकी शिकायत करने पर कानूनी कार्रवाई करूंगा।’

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें