दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने एक बड़ा बयान दिया है. जिसमे उन्होंने दिल्ली के मुख्य सचिव एमएम कुट्टी को भाजपा का एजेंट बताया. उन्होंने कहा है कि मुख्य सचिव भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के जासूस की तरह काम कर रहे हैं.

आप को बता दे कि केजरीवाल और कुट्टी के बीच विवाद की खबर उस वक्त आई थी. जब केजरीवाल ने 02 अक्टूबर को लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर विजय घाट पर आयोजित श्रद्धांजलि समारोह में शामिल नहीं होने पर उन्हें नोटिस जारी किया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

नोटिस में उन्होंने कहा, देश के भूतपूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर विजय घाट पर आयोजित श्रद्धांजलि समारोह में आप क्यों नहीं आए. इस कार्यक्रम में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई हस्तियों ने शिरकत की थी.

इसी बीच खबर है कि कुट्टी को केजरीवाल ने आदेश मानने से इंकार करने पर शाम 5:00 बजे अपने निवास स्थान पर सभी जरूरती दस्तावेजों के साथ तलब किया है. दरअसल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मेट्रो के किराए में भारी बढ़ोतरी को लेकर मुख्य सचिव को निर्देश दिया था कि वह इस बढ़ोतरी के मामले को लेकर जांच करें और मुख्यमंत्री को रिपोर्ट सौंपे.

दिल्ली सरकार के सूत्रों का कहना है कि मुख्य सचिव ने अरविंद केजरीवाल का आदेश मानने से इनकार कर दिया है. जिससे नाराज होकर मुख्यमंत्री ने आज मुख्य सचिव को अपने निवास स्थान पर आदेश कि इस फाइल को लेकर तलब किया है.

Loading...