दिल्ली में अतिथि शिक्षकों को नियमित करने के विधेयक का ‘विरोध’ करने को लेकर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल उपराज्यपाल अनिल बैजल पर भड़क उठे.

दिल्ली विधानसभा के एक दिवसीय सत्र के दौरान केजरीवाल ने कहा कि ‘मैं एक निर्वाचित मुख्यमंत्री हूं, न कि आतंकवादी.’ उन्होंने कहा, हमारे साथ ऐसा बर्ताव क्यों किया जाता है. मैं एक इलेक्टेड सीएम हूं, कोई आतंकवादी नहीं. उन्होंने आगे कहा, दिल्ली के मालिक हम हैं, न कि नौकरशाह.

दरअसल, दिल्ली सरकार के स्कूलों में करीब 15 हजार अतिथि शिक्षकों को नियमित करने के लिए विधानसभा में पेश एक विधेयक पर चर्चा में वह भाग ले रहे थे. विधेयक को सदन में सर्वसम्मति से पारित किया गया. बैजल ने इसका विरोध करते हुए कहा था कि ‘सेवाओं’ से संबंधित मामले राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के विधानसभा के विधायी दायरे से बाहर हैं और प्रस्तावित विधेयक संवैधानिक प्रावधानों के मुताबिक नहीं हैं.

इस पर केजरीवाल भड़क उठे उन्होंने कहा, “दिल्ली ने कोई लॉ सेक्रेटरी नहीं चुना है, बल्कि सीएम चुना है. मैं सीएम हूं. उपराज्यपाल कहते हैं कि डिप्टी सीएम और सीएम को फाइल नहीं दिखाई जाएगी. ऐसा क्या है इन फाइलों में? उपराज्यपाल को क्या हम आतंकवादी नजर आते हैं?”

उन्होंने कहा, “देश ब्यूरोक्रेसी से नहीं, डेमोक्रेसी से चलता है. अधिकारियों से नहीं, बल्कि हम लोगों से देश चलता है. अगर उपराज्यपाल को कोई आपत्ति है, तो उसे ठीक कराएं, लेकिन ऐसे बिल को रोक कर न रखें. ये अधिकारियों की बात कर रहे हैं, उन्हें इन्होंने डरा रखा है.”

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?