kcr owaisi

हैदराबाद: तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर ने गुरुवार यानी छह सितंबर को सुबह बुलाई मंत्रिमंडल की बैठक बुलाकर विधानसभा भंग करने का प्रस्ताव पारित कर दिया। इस प्रस्ताव को राज्यपाल ईएसएल नरसिंहन ने मंजूरी दे दी है।

राज्यपाल ने नई सरकार का गठन होने तक चंद्रशेखर राव से कार्यवाहक मुख्यमंत्री के रूप में पद पर बने रहने का आग्रह किया है। फिलहाल चुनाव तक के चंद्रशेखर राव कार्यवाहक मुख्यमंत्री बने रहेंगे। विधानसभा को भंग करने के बाद KCR ने राहुल गांधी पर बड़ा बयान दिया है।

उन्होने कहा, कहा, “सभी जानते हैं राहुल गांधी क्या हैं। देश के सबसे बड़े मसखरे। पूरे देश ने देखा, वह किस तरह श्री नरेंद्र मोदी के पास गए, और उन्हें गले लगाया, और फिर किस तरह आंख मारी। वह हमारे लिए प्रॉपर्टी हैं। जितनी ज़्यादा बार वह (तेलंगाना) आएंगे, हम उतनी ही ज़्यादा सीटें जीतेंगे।”

चंद्रशेखर राव ने कहा, “राहुल गांधी को कांग्रेस की दिल्ली सल्तनत विरासत में मिली है। वह कांग्रेस के दिल्ली साम्राज्य के कानूनी वारिस हैं। यही वजह है कि मैं लोगों से अपील करता हूं कि कांग्रेस के, दिल्ली के गुलाम न बनें। तेलंगाना का निर्णय तेलंगाना में ही होना चाहिए।”

चुनाव लड़ने को लेकर उन्होंने कहा, “हम चुनाव अकेले लड़ेंगे, लेकिन बेशक हम AIMIM (ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन) के मित्र हैं।”

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें