कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के तौर पर जेडीएस नेता कुमार स्वामी बुधवार को शपथ लेंगे. ऐसे में विपक्ष की एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए तमाम विपक्षी पार्टियों को आमंत्रित किया गया है. लेकिन आम आदमी पार्टी को शपथग्रहण में शामिल होने का न्योता नहीं मिला है.

आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल को इस शपथ ग्रहण के लिए आमंत्रित नहीं किया गया है. ऐसे में आप की और से कहा गया कि पार्टी नेताओं की आज तक कभी जेडीएस के किसी नेता से कोई संपर्क नहीं हुआ और ऐसे में शपथ ग्रहण के इनवाइट की सोचना बेगानी शादी में अब्दुला दीवाना जैसी बात है.

बता दें कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव में अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) के सभी उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई थी. ‘आप’ के 29 प्रत्याशियों की जमानत जब्त हुई थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

kumaa

पार्टी ने बेंगलूरू में 18 सीटों पर और राज्य के अन्य हिस्सों में 11 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे थे. जिनमे से 19 उम्मीदवार तो एक हजार वोट भी प्राप्त नहीं कर सके. सिर्फ पार्टी के शांति नगर विधानसभा से उम्मीदवार रेणुका विश्वनाथन को सबसे अधिक 2658 मत मिले.

माना जा रहा है कि आप उम्मीदवारों की इन सीटों पर कांग्रेस को नुकसान झेलना पड़ा है. साथ ही बीजेपी को बड़ा फायदा पहुंचा है. हो सकता है आम आदमी पार्टी को शपथग्रहण में आमंत्रित न करने की ये भी वजह हो.

Loading...