नोटबंदी पर कांग्रेस ने जारी किया VIDEO, कहा – बीजेपी नेताओं की मदद से कमीशन पर बदले गए नोट

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने मंगलवार को वीडियो जारी किया जिसमें कुछ लोग कथित तौर यह दावा करते हुए नजर आ रहे हैं कि नोटबंदी के बाद भाजपा के कुछ नेताओं की मदद से कमीशन की एवज में नोट बदले गए। सिब्बल ने यह दावा भी किया कि नोटबंदी के बाद 15 से लेकर 40 प्रतिशत तक कमीशन की एवज में नोट बदले गए। उन्होंने नरेंद्र मोदी सरकार को इसकी जांच कराने की चुनौती दी है।

सिब्बल ने कहा कि नोटबंदी के दौरान पुराने नोट को बदलने के लिए अधिकारियों के एक टीम का गठन किया गया था, जिसका नेतृत्व भाजपा अध्यक्ष अमित शाह कर रहे थे। इस टीम में विभिन्न विभागों के अधिकारी थे। मंत्रियों और व्यवसायियों के पैसे प्लेन के माध्यम से हिंडन एयरबेस ले जाए गए और वहां से इसे रिजर्व बैंक ले जाया गया। पैसे 35 से 40 प्रतिशत कमीशन लेकर बदले गए।

उन्होंने कहा, “नोटबंदी भारत के इतिहास में सबसे बड़ा घोटाला है। यह दुख की बात है कि हमारी एजेंसी विपक्ष के लोगों की जांच करेगी, लेकिन उन लोगों की नहीं जो सत्त में हैं।” सिब्बल ने अपने बयान के सहारे मध्य प्रदेश में पिछले एक सप्ताह से चल रहे छापे पर की ओर भी संकेत किया।

demonetise

सिब्बल ने कहा, “हिंदुस्तान के इतिहास में अगर कोई सबसे बड़ा स्कैम हुआ है तो वो नोटबंदी का है। मोदी ने अपने कार्यकाल की शुरुआत ही जनता को मूर्ख बनाकर की और अब धमकाकर अपना कार्यकाल खत्म कर रहे हैं। ये बहुत बड़े दुख की बात है कि हमारे लोकतंत्र में जो एजेंसियां हैं वो विपक्षी दलों की जांच करेंगी लेकिन केंद्रीय मंत्रियों की कोई जांच नहीं होगी।”

कांग्रेस नेता ने कहा, “ऐसा लगता है कि सारी एजेंसियां , चाहे वो आईटी हो, सीबीआई हो या एनआईए हो, सब इनके कब्जे में हैं. जब एजेंसी और सरकार एक मंच पर आ जाएं तो लोकतंत्र कभी बहाल नहीं रह सकता। लोकतंत्र बचाने का काम अब जनता का है।”

सिब्बल ने ताजा वीडियो का हवाला देते हुए पूछा कि क्या ईडी इन लोगों को गिरफ्तार करेगी ? विपक्षी दलों के खिलाफ डायरी का इस्तेमाल किया जाता है पर यही बात बिड़ला डायरी और येदियुरप्पा पर लागू नहीं होती है।

विज्ञापन