26 जनवरी को गणतंत्र दिवस (Republic Day) के मौके पर किसान ट्रैक्‍टर रैली में हुई हिंसा और लाल किले पर फहरे राष्ट्रीय ध्वज के बगल में निशान साहिब फहराने के जवाब में अब बीजेपी के नेता कपिल मिश्रा ने भी दिल्ली में तिरंगा मार्च का ऐलान किया है।

उन्होने ट्वीट कर बताया, ”तिरंगे का अपमान अब स्वीकार नहीं पुलिस वालों पर हमला अब बर्दाश्त नहीं तिरंगा हमारा सम्मान, पुलिस हमारा अभिमान”। तिरंगा मार्च- National Flag March. 30 जनवरी, शनिवार, शाम 5 बजे। सेंट्रल पार्क कनॉट प्लेस। आप सभी जरूर आइये, हाथों में तिरंगा लेकर।’

उन्होने आगे लिखा, राम मंदिर की झांकी तोड़ने वाला ना सिख हो सकता, ना किसान। ये हैं केवल बाबर की नाजायज संतान।

दूसरी और हरियाणा में इंडियन नेशनल लोक दल के विधायक अभय सिंह चौटाला ने कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का समर्थन करते हुए विधानसभा से इस्तीफा दे दिया। बता दें कि अभय चौटाला ने किसान आंदोलन के पक्ष में ऐलान किया था कि 26 जनवरी तक अगर केंद्र सरकार ने कानून वापस नहीं लिए तो वह विधायक पद से इस्तीफा दे देंगे।