2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में युवा नेता और जेएनयू छात्र संगठन के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार भी अपनी किस्मत आजमा सकते है. सीपीआई बिहार प्रदेश के सचिव सत्यनारायण ने इस बात का संकेत देते हुए कहा कि कन्हैया कुमार को उनके गृह जिले बेगूसराय से चुनावी मैदान में उतारे जाने की संभावना है.

सीपीआई बिहार के सेक्रेटरी सत्यनारायन ने कहा कि कन्हैया के लिए सभी विकल्प खुले हैं. वे जहां से चाहें चुना लड़ सकते हैं लेकिन संभवत उन्हें बेगुसराय की सीट ही दी जाएगी. बेगुसराय के अलावा खगड़िया, मधुबनी और मोतिहारी भी कुछ सीटें हैं जो कि कन्हैया के लिए विकल्प हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कन्हैया कुमार के चुनाव लड़ने पर टक्कर का मुकाबला होने की संभावना है. क्योंकि वर्ष 2019 का लोकसभा चुनाव वामपंथी दल बिहार में राजद और कांग्रेस के साथ मिल कर लड़ सकते हैं. राजद और कांग्रेस से वामपंथी दलों का गठबंधन होने से कन्हैया को लालू प्रसाद समर्थन मिल सकता है.

वामपंथियों का गढ़ माना जानेवाली बेगूसराय की सीट पिछले दो बार से भाजपा की झोली में जा रही है. हालांकि, पिछली बार का अंतर काफी मामूली था. वामपंथी दलों का दावा है कि कन्हैया कुमार अभी से चुनाव की तैयारी में लग गए हैं, और वह लोकसभा क्षेत्र के विभिन्न इलाकों का दौरा कर रहे हैं.

अक्सर देखा गया है कि कन्हैया किसी भी कार्यक्रम में जाते हैं तो वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर निशाना साधने से नहीं चूकते हैं.

Loading...