भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी इमरती देवी को लेकर कांग्रेस नेता कमलनाथ के द्वारा दिये गए बयान को लेकर मध्य प्रदेश में सियासी बवाल मचा हुआ है। दरअसल, उपचुनाव में प्रचार के दौरान भाषण देते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर बीजेपी की मंत्री इमरती देवी को आइटम शब्द से पुकारे जाने का आरोप है।

आज तक के मुताबिक कमलनाथ मध्य प्रदेश (एमपी) के डबरा में कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के समर्थन में प्रचार करने पहुंचे थे।  इस दौरान उन्होंने मंच से कहा कि सुरेंद्र राजेश हमारे उम्मीदवार हैं, सरल स्वभाव के सीधे साधे हैं। यह उसके जैसे नहीं है, क्या है उसका नाम? मैं क्या उसका नाम लूं आप तो उसको मुझसे ज्यादा अच्छे से जानते हैं, आपको तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था, ‘यह क्या आइटम है’।

कमलनाथ के इस बयान पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को इस संबंध में पत्र लिखकर कमलनाथ के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा, “विधानसभा उपचुनाव में प्रचार के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कैबिनेट मंत्री और अनुसुचित जाति की महिला नेत्री इमरती देवी पर अभद्र एवं अशोभनीय टिप्पणी की। यही नहीं, वह इस टिप्पणी को सही भी ठहरा रहे हैं। मुझे लगा था कि एक महिला होने के नाते आप इसका खुद संज्ञान लेंगी और उन पर कड़ी कार्रवाई करेंगी, लेकिन अब तक ऐसा नहीं हुआ।”

वहीं इस बयान के बाद इमरती देवी ने कमलनाथ को कलंकनाथ बता दिया। इमरती देवी ने कहा, ”मैं एक महिला हूं, और गरीब घर से आती हूं। घर का चूल्हा चौका करते हुए मैं आज राजनीति कर रही हूं। अगर ऐसा है तो क्या मेरा हक नहीं है राजनीति करने का, कमलनाथ क्या कहता हैं कि महिला राजनीति नहीं कर सकती। अगर वो महिलाओं के लिए ऐसे बोलते हैं तो कमलनाथ नहीं कलंकनाथ हैं।

इमरती देवी ने आगे कहा, ”जब मैं उनकी पार्टी में रही तो मैं उन्हें बड़े भाई का दर्जा देती थी। मैं उनके पैर छुआ करती थी। लेकिन अब उन्होंने मेरे लिए जो बात कही है, इसके बाद मैं उन्हें राक्षस मानती हूं।” उन्होंने कहा कि वे मध्य प्रदेश के रहने वाले नहीं हैं, वे ऐसे प्रदेश से आए हैं जहां महिलाओं का सम्मान नहीं होता। हमारे मध्य प्रदेश में महिलाओं का बहुत सम्मान होता है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano