Tuesday, October 26, 2021

 

 

 

राजनाथ ने JNU विवाद में बताया हाफिज सईद का हाथ, येचुरी बोले- बापू के हत्यारों से नहीं चाहिए सीख

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यून‍िवर्सिटी (जेएनयू) में देश विरोधी नारेबाजी के मामले में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि जेएनयू कैंपस में जो कुछ भी हो रहा है उसे आतंकी हाफिज सईद का समर्थन प्राप्त है, वहीं राजनाथ पर पलटवार करते हुए सीपीएम नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि हमें गांधी के हत्यारों से देशभक्ति‍ की सीख नहीं चाहिए.

राजनाथ सिंह ने इलाहाबाद में एक कार्यक्रम के दौरान कहा, ‘जेएनयू की घटना को लश्कर-ए-तैयबा के चीफ हाफिज सईद का समर्थन प्राप्त था.’ उन्होंने कहा कि जेएनयू में जो हुआ, वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण था.


नहीं चाहिए देशभक्ति‍ का सबूत: येचुरी
गृहमंत्री के इस बयान पर सीपीएम नेता सीताराम येचुरी ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा, ‘हमें किसी से देशभक्ति का सबूत नहीं चाहिए. हमें बापू के हत्यारों से देशभक्ति की सीख नहीं चाहिए. आरएसएस से जुड़े लोगों का लोकतंत्र पर भरोसा नहीं है. अगर गृह मंत्री के पास आरोपों को लेकर सबूत हैं तो कार्रवाई करें.’

‘दोष‍ियों को बख्शा नहीं जाएगा’
इससे पहले इलाहाबाद में गृह मंत्री ने एक बार फिर स्पष्ट शब्दों में कहा कि जेएनयू मामले में जो लोग भी दोषी पाए जाएंगे, उनके ख‍िलाफ सख्त कार्रवाई होगी, लेकिन निर्दोष लोगों को किसी तरह परेशान नहीं किया जाएगा. राजनाथ ने सभी राजनीतिक पार्टियों से भी अपील की है कि राष्ट्रभक्ति से जुड़ा हुआ कोई कहीं भी खड़ा होता है तो सभी को एकजुट होकर खड़ा होना चाहिए. उन्होंने इस मुद्दे पर राजनीति करने वालों को भी लताड़ा.

जेएनयू कैंपस में हुई नारेबाजी में PAK का हाथ: शाहनवाज
बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने इस मामले पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह के बयान का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगेंगे तो उसके पीछे पाकिस्तान का ही हाथ होगा. उन्होंने राहुल गांधी पर इस मामले के राजनीतिकरण का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ‘जेएनयू में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगेंगे तो हाथ पाकिस्तान का ही होगा. पाकिस्तान के पक्ष में बोलने पर कोई आवाज नहीं उठा रहा और राहुल गांधी इस पर राजनीति कर रहे हैं. क्या नक्सली भाषा की इजाजत दे देनी चाहिए. विचारों की अभिव्यक्ति का मतलब ये नहीं है कि देश विरोधी बातों की इजाजत दे दी जाए.’

‘जो पाकिस्तान जिंदाबाद बोलेगा, जेल जाएगा’
शनिवार को राजनाथ ने ने कहा था कि जो पाकिस्तान जिंदाबाद बोलेगा वो जेल जाएगा. गृह राज्यमंत्री किरन रिजिजू ने भी जेएनयू में हुई घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया था. उन्होंने कहा कि जेएनयू को देशविरोधी गतिविधियों का अड्डा बनने नहीं दिया जाएगा.

राजनाथ से मिले वामपंथी नेता
छात्रों की गिरफ्तारी के मामले में शनिवार को सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी और सीपीआई नेता डी राजा ने राजनाथ सिंह से मुलाकात की थी. (Aaj Tak)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles