नई दिल्ली । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और वित्त मंत्री अरुण जेटली के बीच छत्तिश का आँकड़ा है। इसकी एक बानगी अदालत में भी देखने को मिली जहाँ केजरीवाल पर चल रहे मानहानि के मुक़दमे में वक़ील राम जेठमलानी ने अरुण जेटली की ख़ूब फ़ज़ीहत की। इसलिए अगर एक तस्वीर में दोनो साथ बैठे और मुस्कुराते हुए दिखे तो, हैरानी ज़रूर होगी।

लेकिन गुरुवार को यह नज़ारा आम था। केजरीवाल के दिए गए डिनर में जेटली ने पहुँचकर सबको चौंका दिया। ज़्यादा हैरानी तब हुई जब केजरीवाल और जेटली पास पास बैठे और मुस्कुराते हुए बात करने लगे। यह एक दुर्लभ संयोग था। लेकिन सियासी हलकों में चर्चा ज़ोरों पर थी। इस पर अब राजनीति शुरू हो चुकी है। दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने इस मुलाक़ात पर सवाल उठाए है।

अजय माकन ने ट्वीट कर लिखा,’ बदले बदले से मेरी सरकार नज़र आते हैं। वाह केजरीवाल जी वाह!
क्या पुरानी दिखावटी कुश्ती का ड्रामा ख़त्म? तभी गडकरी जी ने गोवा चुनाव से पूर्व-केजरीवाल पार्टी को भाजपा की मदद करने वाला बताया था।’ मालूम हो कि डीडीसीए में भ्रष्टाचार को लेकर केजरीवाल ने जेटली पर आरोप लगाए थे। इसके बाद जेटली ने केजरीवाल समेत कई आप नेताओ पर मानहानि का मुकदमा किया था।

इस मामले की सुनवाई के दौरान दोनो नेताओ के बीच काफ़ी तल्ख़ी देखने को मिली। लेकिन गुरुवार को आयोजित केजरीवाल के डिनर में पहुँचकर जेटली ने सबको चौंका दिया। दरअसल कल जीएसटी काउन्सिल की बैठक हुई। बैठक ख़त्म होने के बाद दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने वित्त मंत्री को डिनर में आने का न्योता दिया जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें