मोदी के खिलाफ बोलने पर होता है राजद्रोह का मुकदमा, जेल भरो अभियान करेंगे शुरू: औवेसी

हैदराबाद. ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (All India Majlis-e-Ittehadul Muslimeen) प्रमुख असदुद्दीन औवेसी (Asaduddin Owaisi) ने कर्नाटक के बीदर में सीएए और एनआरसी पर एक नाटक में कथित संलिप्तता के लिये एक स्कूल की प्रधानाचार्य और एक छात्र की मां के खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज करने की रविवार को कड़ी आलोचना की।

औवेसी ने कर्नाटक के बीदर में हुई उस घटना की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘अगर कोई मोदी के खिलाफ बोलता है, तो उसके खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा दर्ज कर लिया जाता है। मैं नरेन्द्र मोदी को बताना चाहता हूं कि हम इसके खिलाफ जेल भरो अभियान शुरू करेंगे।’

उन्होंने कहा, ”भारत की सभी जेलों में केवल तीन लाख लोगों को ही रखा जा सकता है। अगर हम सभी सड़कों पर आ जाएं तो, भारत की जेलें कम पड़ जाएंगी। आप (या तो) हमें जेल में रखिये या फिर हमें गोली मार दीजिए।” औवेसी ने यह बात सीएए, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ यूनाइटेड मुस्लिम एक्शन कमेटी की ओर से आयोजित महिलाओं की विरोध सभा में कही।

बता दें कि  बीदर में सीएए, एनआरसी के संदर्भ में बच्चों के नाटक पर पुलिस ने शाहीन स्कूल के कुछ कर्मचारियों और दो महिलाओं से पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया। पुलिस ने उन्हें अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

इससे पहले न्यू टाउन पुलिस स्टेशन ने आईपीसी की धारा 124ए और 504 के तहत शाहीन स्कूल और उसके मैनेजमेंट के खिलाफ केस दर्ज किया था।

विज्ञापन