जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने देश के हालात पर चिंता जताते हुए कहा कि आज हर तरफ असहिष्णुता है। हिंदुस्तान जिंदाबाद से लेकर ‘जन गण मन’ नहीं बोलने पर लोगों को दुश्मन करार दे दिया जाता है।

आजतक चैनल के प्रोग्राम में उन्होने कहा कि जब हम छोटे थे तब ‘जन गण मन’ बजने पर हम खड़े हो जाते थे, लेकिन आज देशभक्ति का प्रमाण देना पड़ता है। ‘जन गण मन’ बोलने वाला देशभक्त बन जाता है और न बोलने वाला दुश्मन।उन्होंने कहा कि उन्हें हिंदुस्तान जिंदाबाद बोलने से ऐतराज नहीं है।

इसके अलावा उन्होने र्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला के साथ ‘भारत माता की जय’ के नारे पर हुए अभद्र व्यवहार की भी निंदा की। उन्होने कहा कि राज्य के इतने बुजुर्ग नेता के साथ जो कुछ हुआ वो नहीं होना चाहिए था। लेकिन इस समय हर ओर इनटोलरेंस है जिसके कारण ऐसा हो रहा है।

imran khan 2018082406555250 650x

महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार को कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान से बातचीत की भी सलाह दी। उन्होंने कहा कि जब आर्मी बैकग्राउंड वाले परवेज मुशर्रफ से बात हो सकती है तो जनता की ओर से निर्वाचित इमरान खान से क्यों नहीं बात हो सकती।

उन्होंने कहा कि वो बीजोपी को शुरु से कह रही है कि कश्मीर मसले पर जल्द से जल्द पाकिस्तान स बातचीत की जाए। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर की समस्या राजनीतिक है, इसलिए फर्क नहीं पड़ता कि यहां राज्यपाल का शासन है या फिर किसी और का।

मुफ्ती ने कहा कि भारत के लोगों को पाकिस्तान के नए पीएम इमरान खान के बयान का स्वागत करना चाहिए। उन्हें उम्मीद है कि भारत को सकारात्मक पहल करनी चाहिए।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें