माकपा महासचिव सीताराम येचुरी का मानना हैं कि आरएसएस-भाजपा के हाथों में भारत फासीवाद की ओर बढ़ रहा है. 

येचुरी ने इस बारें में कहा, ‘‘भाजपा आरएसएस की राजनैतिक शाखा के तौर पर काम करती है. आरएसएस का फासीवादी एजेंडा है और फासीवादी एजेंडा भारतीय धर्मनिरपेक्ष लोकतांत्रिक संवैधानिक गणराज्य को बदलकर अपने ‘हिंदू राष्ट्र’ में तब्दील करने का प्रयास करने का है. इसके हम विरोधी हैं. हम इसका विरोध जारी रखेंगे.’’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

येचुरी ने आगे कहा, इसलिए यह फासीवादी राज्य नहीं है लेकिन फासीवाद की तरफ बढ़ रहा है. वे ऐसा करना चाहते हैं। ऐसा हम नहीं होने देंगे.

पार्टी की केंद्रीय समिति की तीन दिवसीय बैठक के बाद संवाददाताओं से बातचीत में येचुरी ने कहा कि फासीवाद का मतलब संसदीय लोकतंत्र की जगह खुली तानाशाही स्थापित करना है.

उन्होंने आगे कहा कि यह भारत में नहीं हुआ है लेकिन फासीवाद के खतरे’ से हर स्तर पर अवश्य लड़ा जाना चाहिए.

Loading...