बसपा प्रमुख मायवती ने बुलंदशहर गैंगरेप मामलें में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से इस्तीफा मांगते हुए कहा कि ”अगर आप (अखिलेश) लॉ एंड ऑर्डर नहीं संभाल सकते तो इस्‍तीफा दे दें. उन्होंने आगे कहा कि अगर यूपी संभाला नहीं जा रहा है तो बेहतर होगा कि सीएम के पद से नैतिकता के आधार पर इस्‍तीफा दे देना चाहिए. ये मेरी सलाह है. इस घटना से साफ जाहिर हो गया कि यूपी में कानून का राज नहीं, जंगल राज चल रहा है.

बसपा की ओर से लखनऊ में जारी मायावती के बयान में कहा गया है कि ऐसी घटना से फिर साबित हुआ है कि लोगों की जान-माल, इज्जत-आबरू की सपा सरकार में कोई कीमत नहीं रह गई है. खासकर महिलाओं का घर से निकलना बेहद असुरक्षित हो गया है. उन्होंने मुख्यमंत्री से सवाल किया है कि वह दुष्कर्म पीड़ित मां-बेटी की अस्मत को कैसे लौटा सकते हैं? क्या वह इस घटना को भी पैसे से तौलेंगे?

इस मामले में अबतक तीन आरोपी गिरफ्तार किए गए है जबकि मुख्य आरोपी अब भी फरार है. उसके लिए पुलिस की आठ टीमें चार राज्यों छापेमारी कर रही है. करीब दो दर्जन संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. वारदात का पर्दाफाश करने के लिए जोन के करीब 350 पुलिसकर्मियों को राजस्थान, हरियाणा और दिल्ली तक दबिश पर लगा दिया गया.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें